10th पास को हुआ इंग्लिश बोलने वाली लेडी से इश्क, दोनों ने बनाई ऐसी कंपनी कि मच गई अफरा तफरी

10वीं पास शख्स की फ्रेंडशिप एक ऐसी लड़की से हुई, जिसने इंग्लिश लिटरेचर में बीए किया था। दोनों में गहरी दोस्ती हुई। फिर दोनों ने मिलकर एक कंपनी की नींव डाली। इसके बाद लोगों को बिटकॉइन निवेश के नाम पर ऐसा झांसा दिया कि 2-4 नहीं, करीब 3000 लोग उनके जाल में फंसकर करोड़ों रुपए गंवा बैठे। पुलिस ने इस कपल को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन उनसे पैसों की वसूली टेड़ी खीर है।

ऐसे शुरू हुई 420 की कहानी..
लड़की अविका चुरू की ओम कॉलोनी, जबकि मनोज कुमार पटेल जोधपुर के बोरूंदा का रहने वाला है। पुलिस ने लड़की को 3, जबकि मनोज को 7 दिन की रिमांड पर लिया है, ताकि उनके राज सामने आ सकें। एडीजी अनिल पालीवाल ने बताया कि आरोपी विदेश भागने की तैयारी में थे। इन्होंने जयपुर के जगतपुरा के रामनगरिया में एक फ्लैट किराये पर ले रखा था। अंदेशा है कि दोनों ने करीब 18 करोड़ रुपए की ठगी की है। इस मामले में अभी तीन पीड़ित ही सामने आए हैं। आरोपियों के पास से अलग-अलग राज्यों की 3000 लोगों की आईडी मिली हैं। 

अंदेशा है कि इन्होंने सबका ठगा। दिल्ली निवासी गुरमीत सिंह ने पुलिस में शिकायत की थी कि आरोपियों ने बिटकॉइन(प्रतिबंधित वर्चुअल करेंसी) में निवेश पर रोजाना 1 प्रतिशत कमिशन देने का झांसा दिया था। इसके बाद दोनों ने करीब 5 करोड़ रुपए हड़प लिए। आरोपियों ने लोगों को रिझाने अपनी कंपनी एमएलएम आई-मैक्स कैपिटल के बैनर तले कई शहरों में बड़े ईवेंट किए। दोनों ने फर्जी मैरिज सर्टिफिकेट भी बनवा रखा था। मनोज शादीशुदा है। उसकी पत्नी और 2 बच्चे गांव में रहते हैं। वहीं अविका अपने पति को छोड़ चुकी है।
Loading...