11 विदेशी मुस्लिम धर्मगुरुओं की गतिविधि मिली संदिग्ध, एनआइए ने दो घंटे किया पूछताछ....

कपाली में तबलीगी जमात के इज्तिमा में शामिल हाेने आये 11 विदेशी माैलानाअाें से धर्म-प्रचार आैर विदेशी फंडिंग की जानकारी हासिल की जा रही है. जांच में इसकी जानकारी मिली है कि उनकी गतिविधियां संदिग्ध हैं. जादूगोड़ा स्वासपुर के पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में उन सभी काे रखा गया है, जहां उनसे लगातार पूछताछ की जा रही है.
शुक्रवार को एनआइए और सेंट्रल इंटेलिजेंस की टीम ने वहां पहुंच कर दो घंटे तक सभी विदेशी धर्मगुरुओं से पूछताछ की. उनसे पूछताछ करने में समस्या आ रही है, क्योंकि उनमें किसी को अंग्रेजी-हिंदी नहीं आती है. इधर, सभी विदेशी धर्मगुरुओं की दूसरी काेराेना जांच रिपाेर्ट निगेटिव आयी है. अब जिला प्रशासन को उनकी तीसरी रिपोर्ट का इंतजार है. दरअसल, हिरासत में लिये गये चीन, कजाकिस्तान, कर्जिस्तान आैर तुर्की के 11 माैलानाआें की काेराेना जांच के बाद अब उनसे पूछताछ चल रही है.

15 दिन पहले आये थे सभी, लगातार बदल रहे थे जगह

जमशेदपुर से सटे कपाली क्षेत्र में इज्तिमा में शामिल हाेने के लिए ये माैलाना करीब 15 दिन पहले ही जमशेदपुर और आसपास के इलाके में सक्रिय हाे गये थे. लगातार ये लोग जगह बदल रहे थे. कपाली में दस दिनों तक रहे, पांच दिन बुंडू, तमाड़ समेत कई मुस्लिम बहुल इलाकों का भ्रमण किया. 11 माैलाना रड़गांव मस्जिद में ठहरे थे, जहां से सभी काे हिरासत में लिया गया था. उनके पासपाेर्ट जब्त कर उन्हें मुसाबनी में क्वारेंटाइन किया गया है.
Loading...