पुलिस ने इन दोनों भाइयों को 1200 किमी. पीछा कर पकड़ा, इन्होंने जो किया जानकर हैरान होंगे आप...

बिहार के गोपालगंज में हत्या कर फरार हुए दो सगे भाइयों को राजेन्द्रनगर-एलटीटी एक्सप्रेस से जीआरपी और आरपीएफ की टीम ने दबोचा है। रेल पुलिस के अनुसार 27 फरवरी को शादी समारोह में आरोपी शहजाद आलम पिता चंदमिया (25) और आवाज आलम (22) निवासी मारवाड़ी मोहल्ला गोपालगंज (बिहार) ने अपने साथियों के साथ मिलकर सत्यप्रकाश की हत्या की थी। हत्या कर दोनों भाई फरार हुए और पटना में जा छिपे थे। 
इसी बीच पुलिस से बचने के लिए आरोपियों ने मुंबई जाना तय किया और पत्नी, बेटी, सास को लेकर गाड़ी नंबर 13201 राजेन्द्रनगर- एलटीटी एक्सप्रेस में पटना से मुंबई की यात्रा शुरू की। इधर, तफ्तीश के दौरान आरोपियों की लोकेशन ट्रेन में मिली। जानकारी मिलते ही बिहार पुलिस ने भोपाल रेल एसपी से संपर्क किया। सूचना पर खंडवा जीआरपी को कार्रवाई के निर्देश दिए गए। गुरुवार रात करीब 12.30 बजे ट्रेन खंडवा स्टेशन पहुंची। गाड़ी रुकते ही जीआरपी और आरपीएफ टीम ने बोगियों में सर्चिंग शुरू की। कार्रवाई के दौरान दोनों आरोपियों को ट्रेन के एस-7 कोच से रेल पुलिस ने धरदबोचा।

कोर्ट पेश कर बिहार पुलिस को सौंपे आरोपी

हत्या के आरोपी शहजाद आलम और आवाज आलम की गिरफ्तारी होने की सूचना बिहार पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही शुक्रवार सुबह गोपालगंज पुलिस खंडवा पहुंची। यहां आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय से ट्रांजिक्ट रिमांड लेकर गोपालगंज पुलिस आरोपियों को लेकर बिहार रवाना हुई।
Loading...