सिर्फ 12 रुपये में कोरोना का जांच : इस भारतीय महिला ने किया कमाल, चौंक गया हर देश!

जहां पूरी दुनिया कोराना वायरस की आफत से जूझ रहा है वही अब इस महामारी के खिलाफ भारत अब और मजबूती से लड़ाई लड़ेगा। इस जंग को जीतने के लिए एक पहली स्वदेशी किट बनी है जिसे एक महिला वायरोलॉजिस्ट ने बनाया है। हैरान कर देने वाली बात तो ये है कि महिला ने इस किट को अपनी बच्ची को जन्म देने से सिर्फ 4 घंटे पहले तैयार किया है। जीं हां इस होनहार महिला का नाम मीनल दखावे भोंसले है।

एक सैंपल को जांचने का खर्च मात्र 12 रुपए होगा
बता दें कि मीनल उसी मायलैब डिस्कवरी की रिसर्च और डेवलपमेंट प्रमुख हैं, जिसने यह किट तैयार की है। उन्होंने गर्भावस्था के दौरान ही फ़रवरी में टेस्टिंग किट प्रोजेक्ट पर काम शुरू किया था। और 2 दिन पहले ही मायलैब डिस्कवरी को टेस्टिंग किट तैयार करने और उसकी बिक्री की अनुमति मिली है।

जीं हां यह देश की पहली ऐसी फर्म है, जो कोरोनावायरस किट बेचेगी। इस किट की कीमत 1200 रुपए है। हर किट से 100 सैंपल की जांच हो सकती है। मतलब की एक सैंपल को जांचने का खर्च मात्र 12 रुपए होगा, जबकि विदेशी किट की कीमत 4,500 रुपए है। तो ये है अपने भारत की खोज की गई स्वदेशी किट।

मीनल ने एक इंटरव्यू में किट तैयार करने के बारे में उन्होंने बताया कि 18 मार्च को टेस्टिंग किट की जांच के लिए इसे नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (एनआईवी) को सौंपा। उसी शाम को यानी अस्पताल जाने से पहले, उन्होंने इस किट के प्रस्ताव को भारत के फ़ूड एंड ड्रग्स कंट्रोल अथॉरिटी (सीडीएससीओ) के पास व्यवसायिक मंजूरी के लिए भेजा। और इसी शाम उन्होंने बेटी को जन्म दिया। वह इस उपलब्धि से बहुत खुश हैं।
Loading...