न्यूयॉर्क में कोरोना का कहर, पिछले 24 घंटे में 965 की मौत; ट्रंप अपनी जिद पर अड़े...

अमेरिका में न्यूयॉर्क के हालत सबसे ज्यादा डरावने है.
नई दिल्ली: अमेरिका दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश है लेकिन चीन के वायरस से सुपरपावर अमेरिका का भी दम फूलने लगा है. अमेरिका में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या एक लाख चौबीस हज़ार को पार कर गई है. न्यूयॉर्क के हालत सबसे ज्यादा डरावने है. न्यूयॉर्क श्हर नया वुहान बनता जा रहा है. न्यूयॉर्क में पिछले 24 घंटे में 965 लोगों की जान कोरोना के संक्रमण से गई है. इससे पहले शनिवार को 728 लोगों की मौत हुई थी. न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्र्यू कूमो ने यह जानकारी दी. 
न्यूयॉर्क शहर कोरोना के कहर से थर-थर कांप रहा है. न्यूयॉर्क की गलियां, सड़कें सब सूनी पड़ी हैं. अमेरिका में कुल जितने संक्रमित लोग हैं, उसका आधा से ज़्यादा न्यूयॉर्क में हैं लेकिन अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप अपनी जिद पर अड़े हुए हैं. राष्ट्रपति ट्रंप को लगता है कि न्यूयॉर्क को क्वारंटीन करने की जरूरत नहीं है. ट्रंप ने कोरोना संकट से अमेरिका को बाहर निकालने के लिए 2.2 ट्रिलियन डॉलर के आर्थिक पैकेज भी जारी किया है. 

चीन के कोरोना वायरस की सबसे ज़्यादा मार यूरोप के देशों पर पड़ रही है. अकेले यूरोप देशों में मौतों का आंकड़ा बीस हज़ार को पार कर गया है. और इनमें भी सबसे ज़्यादा हाहाकार इटली में मचा है. इटली में हालात कितने बुरे हैं, इसका अंदाज़ा आप इस बात से लगाइए कि यहां के एक चर्च में ना जाने कितनी लाशें ताबूत में रखी हैं, उनका अंतिम संस्कार भी नहीं हो सकता. इन लोगों का अंतिम संस्कार कराने की ज़िम्मेदारी अब सेना को सौंपी गई है.
Loading...