देश मे कोरोना से जंग के लिए तैयार सेना, सिर्फ 6 घंटे मे होगा ये काम....

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में अपना तहलका मचा रखा है। जिसको लेकर अब तक भारत सरकार बहुत शख्त होते हुए दिखाई दे रही है। दोस्तों कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में तहलका मचाने के साथ-साथ पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था को भी हिला दिया है। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए अभी तक कोई दवाई तैयार नहीं की जा सकी है। कोरोना के कारण बहुत सारी छोटी बड़ी कंपनियां बंद होने के कगार पर है। इसलिए कई कंपनियां कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति दे रही है।
दुनिया भर में कोरोना से 20 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं, दुनिया भर के 186 देश इसकी चपेट में हैं और कई देशों में कोरोना ने कहर मचाया हुआ है. भारत में इसके मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, कोरोना के भारत में अब तक 650 से ज्यादा मरीज मिले हैं और यह आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है. भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देश भर को अगले 21 दिनों के लिए लॉकडाउन किया गया है. देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या तेजी से बढ़ रही है गुरुवार को अब तक सबसे ज्यादा 4 मौत हुई हैं. जिसके साथ ही देश में मरने वालों की संख्या बढ़कर 17 हो गई है. 
जम्मू-कश्मीर, महाराष्ट्र, राजस्थान और गुजरात में एक-एक मौत हुई है. जबकि बुधवार को तीन मौत हुई थी. कितने देशों ने तो अपने सेना को कोरोनावायरस की जंग में उतार चुकी है लेकिन अभी तक भारत सरकार की तरफ से हमारे सेना को अनुमति नहीं मिली है लेकिन हमारे देश के जबान कोरोनावायरस से जंग जीतने की तैयारी कर रहे हैं और सेना ने एक ऐसा प्लान तैयार कर रही है जो सिर्फ छः घंटे में धरातल पर उतर सकती है। आपको बता दें कि सेना प्रमुख एम. एम. नरवणे का कहना है कि अगर जरूरत पड़ती है तो सेना किसी भी कदम को उठाने के लिए तैयार है। आर्मी के पास एक '6 घंटे' का प्लान तैयार है, जिसके तहत तुरंत ही आइसोलेशन सेंटर और आईसीयू को तैयार किया जा सकता है।
हालांकि आपको बता दें कि भारत सरकार की तरफ से अभी सेना को कोरोनावायरस के साथ जंग में उतरने का आदेश जारी नहीं किया गया है लेकिन सेना अपने स्तर पर तैयारी कर रही है। आर्मी चीफ नरवणे के मुताबिक, इस संकट की घड़ी में भी सेना अपना काम कर रही है और सभी ऑपरेशनल टास्क इस वक्त जारी हैं. अभी तक कई देशों ने इस संकट से निपटने के लिए सेना की मदद ली है, इसपर आर्मी चीफ ने कहा कि भारतीय सेना देश के लोगों के लिए है, अगर जरूरत पड़ती है और सरकार कहती है तो सेना पूरी तरह से तैयार है। आपको बताते चलें कि सेना प्रमुख ने देशवासियों के लिए ऐसी बात कही है जो काफी सकून दे सकता है। सेना प्रमुख ने माना कि अभी ये कहना काफी मुश्किल है कि आगे किस तरह के हालात बनते हैं, लेकिन सेना और देश किसी भी तरह की चुनौती से निपटने को तैयार है। इसको लेकर पिछले 2-3 महीने में सेना में अलग-अलग स्तर पर ट्रेनिंग भी दी जा रही है।
Loading...