परिवार के साथ पैदल जा रहे थे घर लेकिन क्या पता था कि रास्ते मे ही छूट जाएगा साथ....

लॉकडाउन के चलते जयपुर से परिवार के साथ अपने गांव सवाई माधोपुर जिले के जेतपुरा जा रहे श्रमिक की शनिवार रात दस बजे उनियारा में पहुंचने पर मृत्यु हो गई। मृतक के भांजे महेन्द्र ने बताया कि मुकेश (40) पुत्र बद्रीलाल बैरवा निवासी जेतपुरा थाना रंवाजना डूंगर जिला सवाईमाधोपुर जयपुर के विश्वकर्मा इंडस्ट्रीयल एरिया में मजदूरी करता था, जो लॉक डाउन के कारण पत्नी 3 बच्चों तथा 2 भांजों के साथ अपने गांव जा रहा था।
उक्त परिवार को जयपुर से पुलिस कर्मियों ने एक ट्रक में टोंक तक के लिए बैठाकर रवाना कर दिया। टोंक में शाम साढ़े सात बजे सवाई माधोपुर चौराहे उतरने पर मृतक मुकेश को खून की उल्टी हुई। वहां से पिकअप में बैठकर उनियारा तक आ गए। उनियारा में पिकअप चालक ने उक्त परिवार पुराना बस स्टैण्ड पर उतार दिया। तबीयत बिगडऩे पर 108 एम्बुलेंस को बुलवा उनियारा के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में बेहोशी की हालत में भर्ती कराया। 

जहां उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। थानाधिकारी राधाकिशन मीणा ने बताया कि रविवार सुबह पोस्टमार्टम व पंचनामा करवा शव परिजनों को सौंप दिया। शव को गांव ले जाने के लिए परिजनों के पास साधन तथा पैसों का अभाव होने पर थानाधिकारी राधाकिशन मीणा ने स्वयं किराये से साधन की व्यवस्था एवं उपखण्ड अधिकारी की स्वीकृति दिलवा शव को गांव के लिए रवाना किया।
Loading...