लोगों को घरों में रखने के लिए मोदी सरकार का ब्रह्मास्त्र, निकालने से भी नहीं निकलेंगे लोग बाहर....

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस की वजह से हाहाकार मचा हुआ है और दुनिया की लगभग 300 करोड़ आबादी अपने घरों में कैद रहने को मजबूर हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सामाजिक दूरी पर जोर देते हुए 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान किया था. केंद्र सरकार एवं पुलिस प्रशासन की तमाम कोशिशों के बावजूद भी कुछ लोग अपनी आदत से बाज नहीं आ रहे हैं और ऐसे ही सरेआम घूम रहे हैं.
भारत की तमाम हस्तियां इस बात पर जोर दे रही है और लोगों को बार-बार समझा रहे हैं कि अगर आपको खुद को एवं परिवार को सुरक्षित रखना है तो घरों से बाहर बिल्कुल भी ना निकले. इसी बीच भारत में कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की संख्या 700 से पार पहुंच गई है. जब विपक्ष द्वारा मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि लोक डाउन के मद्देनजर मजदूर एवं बेसहारा लोगों की जरूरतों का ख्याल नहीं रखा गया तो उसके बाद मोदी सरकार ने 1.70 लाख करोड़ रुपए के राहत पैकेज की घोषणा की. 
इस पैकेज की घोषणा के बाद लोगों ने राहत के कुछ सांस ली. पिछले कुछ दिनों से लोगों के मनोरंजन एवं उन्हें घरों में रखने के लिए सोशल मीडिया पर रामानंद सागर द्वारा निर्मित रामायण सीरियल को फिर से टेलीकास्ट करने की मांग की जा रही थी. आज केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि 28 मार्च से सुबह 9:00 बजे एवं रात्रि 9:00 बजे दिन में दो बार एक 1-1 घंटे का प्रसारण किया जाएगा.
गौरतलब है कि 90 के दशक में रामानंद सागर की रामायण बहुत ज्यादा लोकप्रिय थी और इसके प्रसारण के समय पर गलियों एवं सड़कों पर कोई भी इंसान दिखाई नहीं देता था. इसी के मद्देनजर यह फैसला उठाया गया है ताकि लोग घरों में ही रह सके एवं उनका मनोरंजन भी किया जा सके. उसके साथ ही बच्चों पर भी इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा.
Loading...