पत्नी ने प्रयागराज, पति ने देवरिया में फांसी लगाई, कोरोना नहीं है कारण, जानें...

देवरिया के एक दंपति ने फांसी लगाकर जान दे दी। देवरिया के कौला मुंडेरा गांव में एक युवक ने मंगलवार की रात शहर में खुदकुशी कर ली, जबकि मेडिकल छात्रा उसकी पत्नी का शव उसी दिन सुबह प्रयागराज में एक लॉज के कमरे में मिला। पत्नी का लिखा सुसाइड नोट भी मिला है। माना जा रहा है कि पत्नी की मौत की जानकारी के बाद पति ने जान दी। पत्नी का अंतिम संस्कार उसके मायके वालों ने प्रयागराज में ही कर दिया।
गोरखपुर नगर के सिंघड़िया मोहल्ले के रहने वाले पारसनाथ प्रसाद की बेटी श्वेता उर्फ राखी (25 वर्ष) प्रयागराज के हंडिया स्थित लाल बहादुर शास्त्री आयुर्वेदिक कॉलेज में पढ़ाई कर रही थी। पिछले वर्ष 24 जून को देवरिया के तरकुलवा थाना क्षेत्र के कौला मुण्डेरा गांव के रहने वाले बंता प्रसाद के बड़े बेटे राजकुमार (25 वर्ष) से उसकी शादी हुई थी। राजकुमार देवरिया शहर के भीखमपुर रोड में किराये के मकान में माता-पिता और दो भाइयों के साथ रहता था। वह एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाता था। 

जानकारी के अनुसार शादी के बाद श्वेता ससुराल में 15 दिन रुकी। इसके बाद वह हंडिया जाकर पढ़ाई करने लगी। वहां वह एक लॉज में किराये के कमरे में रहती थी। उसके कमरे से दुर्गंध आने के बाद मंगलवार को मकान मालिक ने इसकी जानकारी पुलिस को दी थी। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव को कमरे से निकाला और इसके बारे में मृतका के पिता पारसनाथ को जानकारी दी। पारसनाथ ने इसके बारे में दामाद राजकुमार को बताया। 

राजकुमार ने इसकी चर्चा घर वालों से नहीं की और किताब लाने की बात कहकर गांव कौला मुंडेरा चला गया। रात को घर वालों ने फोन किया, लेकिन उसने फोन नहीं उठाया। सुबह भी जब उसका फोन नहीं उठा तो घर वालों ने अपने पट्टीदार के पास फोन कर पूछा। पड़ोसी घर में घुसे तो देखा कि कमरे में राजकुमार का शव रस्सी के सहारे कुंडी से लटका हुआ था। पड़ोसी ने राजकुमार के पिता को इसकी जानकारी दी। परिजन घर पहुंचे और घटना के बारे में तरकुलवा पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया। 

महिला के सुसाइड नोट में खुदकुशी का कारण दूसरी युवती से पति का संबंध

प्रयागराज में श्वेता लॉज के जिस कमरे में रह रही थी, वह रविवार से ही नहीं खुला था। मंगलवार को कमरे से दुर्गंध आने के बाद वहां रह रही अन्य छात्राओं ने इसकी जानकारी लॉज के मालिक को दी। पुलिस को मौके से सुसाइड नोट भी मिला। उसमें श्वेता ने पति के किसी दूसरी युवती से प्रेम संबंध और प्रताड़ना को मौत का कारण बताया है। प्रयागराज पुलिस की सूचना पर मंगलवार को श्वेता के पिता व घर वाले वहां पहुंच गए। उन्होंने उसका अंतिम संस्कार प्रयागराज में ही कर दिया।
Loading...