खांस रहे यात्री को ट्रेन से उतार दिया, और उसका गोमो स्टेशन पर ही हुआ मौत...

खांस रहे यात्री को ट्रेन से उतारा, गोमो स्टेशन पर मौत
कोरोना के खौफ से आक्रांत यात्रियों ने सर्दी-खांसी और बुखार से पीड़ित एक सहयात्री को गुरुवार की शाम जबरन गोमो स्टेशन पर ट्रेन से उतार दिया। पीड़ित यात्री ने चिकित्सकीय सहायता के इंतजार में प्लेटफॉर्म पर ही दम तोड़ दिया। मृतक बृजभान यादव (52) जम्मूतवी एक्सप्रेस से कोलकाता से आजमगढ़ जा रहे थे। उनके साथ उनका भांजा सुनील यादव थी थे। सुनील ने बताया कि बृज यूपी आजमगढ़ के सठियांव थाना क्षेत्र के महरूपुर गांव के रहनेवाले थे। पिछले दिनों वह बेटी-दामाद और बहनोई से मिलने के लिए कोलकाता गए थे। गुरुवार को वे अपने घर लौट रहे थे। 
वे अपने भांजे के साथ जम्मूतवी की जनरल बोगी में सवार थे। उन्हें जुकाम और खांसी थी। रास्ते में उन्हें बुखार आ गया। अचानक उनकी खांसी बढ़ गई। उन्हें खांसते देख आसपास बैठे यात्री भयभीत हो गए। उन्हें ट्रेन से उतारकर दूसरी बोगी में जाने को कहा। इस बात को लेकर मामूली कहासुनी भी हुई। जब धनबाद स्टेशन पर वे ट्रेन से उतरने को तैयार नहीं हुए तो गोमो स्टेशन पर कई यात्री एकजुट हो गए और मामा-भांजे को बोगी से उतरने को बाध्य किया। ट्रेन से जबरन उतारे जाने के कारण बृजभान व्यथित थे। गोमो स्टेशन पर उनकी तबीयत बिगड़ी और उन्होंने दम तोड़ दिया। भांजे ने बताया कि मामा पहले से हृदय रोगी थे। उनका इलाज भी चल रहा था। वे दवा भी लेते थे।

आधे घंटे तक मदद का करते रहे इंतजार

बृजभान की मौत के बाद चारों तरफ कोरोना से मौत की खबर फैल गई। इधर सुनील मामा के इलाज के लिए लोगों से सहायता मांगते रहा। आधा घंटा तक बृज के इलाज के लिए रेलवे या स्वास्थ्य विभाग के कोई डॉक्टर नहीं पहुंचे। ट्रेन करीब साढ़े पांच बजे गोमो स्टेशन के चार नंबर प्लेटफॉर्म पर पहुंची थी। भांजे ने बताया कि छह बजे मामा ने दम तोड़ दिया। यदि समय पर उन्हें डॉक्टरी इलाज मिल जाता तो उनकी जान बच जाती।

मौत के बाद पहुंचे जीआरपी-आरपीएफ जवान

बृज की मौत की सूचना पर गोमो जीआरपी तथा आरपीएफ की टीम मौके पर पहुंची और भांजे से जानकारी ली। देर शाम तक कोई डॉक्टर मौके पर नहीं पहुंचे थे। शव प्लेटफॉर्म नंबर चार पर ही चादर में लपेटे कर रखा हुआ था। शुक्रवार को शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। मृतक की दो बेटी मनीता और रानी हैं। मनीता की शादी कोलकाता में हुई है जबकि रानी बीए में पढ़ रही हैं। पुलिस ने परिजनों को सूचित कर दिया है।
Loading...