कमर में पिस्टल लगाए युवक ने पुलिस आरक्षक की कॉलर पकड़ी और कहा, "तू मुझे जानता नहीं"

हाइवे पर लग रहे जाम को नियंत्रित करने के लिए ड्यूटी पर तैनात आरक्षक का कमर में पिस्टल लगाए युवक ने कॉलर पकड़ी और कहा कि तू मुझे जानता नहीं हैं मैं कौन हूं , तुझे अभी देखता हूं। थोड़ी देर बाद आधा दर्जन से अधिक लड़के डंडे व लाठी लेकर आए और आरक्षकों पर हमला कर दिया इस हमले में आरक्षक संजय सिंह के सिर में गंभीर चोट आई है और साथी आरक्षक रवि कुमार, जितेन्द्र ङ्क्षसह को मामूली चोट आई है। घटना शुक्रवार की शाम करीब छह बजे की सदर बाजार चौराहा बानमोर की है। 
हुआ यूं कि आरक्षक संजय सिंह, रवि कुमार, जितेन्द्र की हाइवे पर सदर बाजार चौराहे पर इसलिए ड्यूटी लगाई गई थी कि यहां टे्रफिक जाम न हो। एक तरफ के वाहन निकालने के बाद दूसरी तरफ का टे्रफिक निकालना था। इस चौराहे पर बैरीकेट्स लगे थे तभी कमर में पिस्टल लगाए धीरू मावई बाइक से आए और बैरीकेट्स हटाने लगे। जब पुलिस आरक्षक ने मना किया तो उसने आरक्षक की कॉलर पकड़ ली। तभी आरक्षक ने भी उसकी कॉलर पकड़ ली और दौनो के बीच हाथापाई हो गई और धीरू बोला तू मुुझे जानता नहीं हैं कौन हूं, तुझे अभी बताते हैं यह कहकर चला गया बाद में अपने अन्य साथियों को लेकर आया। 

आरोपी गिर्राज मावई, अमन गुर्जर, सोनू मावई ने आरक्षक संजय सिंह को पकड़ लिया और धीरू मावई ने सिर में लाठी मारी जिससे सिर में गंभीर चोट आई है। आरक्षक रवि कुमार जितेन्द सिंह मुझे बचाने आए तो आरोपी गिर्राज मावई, अमन गुर्जर तथा चार अन्य ने इन दोनों आरक्षकों पर लाठियों से हमला कर चोट पहुंचाई। पुलिस ने आरक्षक संजय गोयल (जाटव) की रिपोर्ट पर आरोपी धीरू मावई, गिर्राज मावई, सोनू मावई, अमन गुर्जर निवासी जैतपुर व चार अज्ञात के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाई।
Loading...