भाई कर रहा था मां से लड़ाई, बहन ने टोका तो उसको भी काट डाला!

कोतवाली क्षेत्र के गोनाह सूरतपुर गांव के रहने वाले अमरजीत प्रसाद की बेटी नेहा (22) रामजी सहाय पीजी कॉलेज रुद्रपुर में बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा थी। मंगलवार की शाम वह दरवाजे पर लकड़ी काट रही थी। उसी दौरान उसका बड़ा भाई फूलबदन बाजार से घर आया। वह आते ही अपनी मां चंपा से उलझ गया। उसका तेवर देख चंपा गांव में चली गई। इसी बीच नेहा ने भाई फूलबदन को भला-बुरा कहने से टोका तो वह उससे उलझ गया। 
वह कुछ समझ पाती इससे पूर्व वह घर में गया और कुदाल लाकर उसके सिर पर ताबड़तोड़ कई प्रहार कर दिए। नेहा का सिर क्षत-विक्षत हो गया और उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। चीख-पुकार सुन कर पहुंचे ग्रामीणों ने दौड़ाया तो फूलबदन भागने लगा। लोगों ने बाइक से पीछा कर उसे दबोच लिया और पुलिस को सूचना दी। मयफोर्स मौके पर पहुंचे कोतवाल अरुण कुमार मौर्य ने उसे हिरासत में लेने के साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। 

आरोपी फूलबदन बंग्‍लुरु में पेंट पॉलिस का काम करता है। वह कुछ दिन पूर्व ही गांव आया था। बताया जा रहा है कि उसकी हरकतों के कारण ही उसकी पत्नी ने उसे छोड़ दिया है। अमरजीत के दो बेटों व चार बेटियों में नेहा चौथे नंबर की थी जबकि फूलबदन सबसे बड़ा है। मामले में आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है। मृतका की मां की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। मामूली पारिवारिक विवाद में हत्या की बात सामने आ रही है। पुलिस केस दर्ज करते हुए छानबीन करेगी।
Loading...