प्रेम विवाह करने वाली किशोरी को भाइयों ने मार डाला, दोनों हुए गिरफ्तार

दूसरे समुदाय के युवक के साथ गई एक किशोरी को पुलिस ने खोजने के बाद दो दिन पहले बिना लिखा-पढ़ी के परिवार के हवाले कर दिया था। भाइयों ने डंडों से पीटकर बहन की हत्या कर दी। किशोरी को बचाने आए दिव्यांग भाई को भी दोनों आरोपियों ने पीटा। शुक्रवार को हुई वारदात के बाद डॉग स्क्वॉड और फोरेंसिक टीम ने भी मुआयना किया। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
क्षेत्र के एक गांव की 17 वर्षीय किशोरी बिहार निवासी दूसरे समुदाय के प्रेमी युवक के साथ चली गई थी। पुलिस के मुताबिक दोनों प्रेम विवाह करके हिमाचल प्रदेश में रहने लगे थे। परिवार वालों की शिकायत के बाद पुलिस दो दिन पहले किशोरी को हिमाचल प्रदेश से ढूंढकर थाने ले आई और बिना लिखापढ़ी के ही मां की सुपुर्दगी में दे दिया।

किशोरी के प्रेम विवाह से नाराज सगे भाई तालीम और आरिफ ने शुक्रवार सुबह साढ़े 11 बजे कमरे में लेटी किशोरी पर डंडों से ताबड़तोड़ प्रहार करके उसकी हत्या कर दी। इस दौरान दोनों ने अपनी मां को रसोई में बंद कर दिया। तीसरे दिव्यांग भाई तालिब ने उसे बचाने की कोशिश की तो उसे भी पीटकर भगा दिया। हत्या के बाद दोनों आरोपी घर से भाग गए।

पुलिस ने आशंका जताई है कि किशोरी को भाइयों ने पहले कोई नशीला पदार्थ खिलाया होगा क्योंकि उसके मुंह से झाग भी निकल रहा था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही इसका पता चल सकेगा। बाद में पुलिस ने घेराबंदी कर गांव के बाहर खेतों में छिपे दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। मां की ओर से दोनों बेटों के खिलाफ बेटी की हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है।
Loading...