लॉकडाउन : मजदूरों पर छिड़का गया केमिकल, डॉक्टर के खुलासा करते ही मच गया हड़कंप!

कोरोना की वजह से पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया गया है। जिस वजह से जो बाहर गरीब मजदूर अपनी जीविका कमाने गए थे वह अपने घर के लिए पलायन करने को मजबूर हैं। और इसी के चलते कुछ मजदूर पलायन करते हुए बरेली पहुंचे। इस दौरान बरेली में उन पर सैनिटाइजर का छिड़काव किया गया, लेकिन जैसे ही इस मामले ने तूल पकड़ा प्रशासन में हड़कंप मच गया।
दरअसल मजदूरों पर सैनेटाइजर की जगह जिस रसायन का छिड़काव किया गया उस रसायन को लेकर बरेली के एक डॉक्टर गिरीश मक्कर ने कहा कि "जब तरल ब्लीच को पानी में मिलाया जाता है तो यह क्लोरीन के स्तर पर निर्भर करता है। यह त्वचा पर लगाने पर जलन और खुजली भी पैदा कर सकता है। उन्होंने कहा कि इस रसायन का उपयोग सतहों को साफ करने के लिए कीटाणुनाशक के रूप में किया जाता है।
हालांकि बरेली के जिला मजिस्ट्रेट नीतीश कुमार ने कहा कि वह प्रवासी मजदूरों के ऊपर कथित तौर पर पानी के साथ कीटाणुनाशक मिश्रण का छिड़काव करने के आरोपों की जांच करेंगे। फिलहाल दोस्तों आपको क्या लगता है मजदूरों के साथ ऐसा बर्ताव किया जाना चाहिए था। हमें अपनी राय कमेंट करके जरूर बताएं, जानकारी को लाइक करें शेयर करें तथा हमारे पेज को अवश्य फॉलो करें।
Loading...