इस मंदिर ट्रस्ट ने कोरोना से निपटने के लिए जो किया वो सुनकर आपको काफी अच्छा लगता है...

कोरोना वायरस. भारत में तेजी से फैल रहा है. इसे फैलने से रोकने के लिए पूरे देश को लॉकडाउन किया गया है. 21 दिन के लिए. लॉकडाउन बेहद जरूरी है. लेकिन कोरोना से निपटने के लिए सिर्फ लॉकडाउन काफी नहीं है. सरकार को पैसे चाहिए होंगे दवाओं और जरूरी इक्विपमेंट्स के लिए. केंद्र और राज्य सरकारों ने अपनी-अपनी तरफ से ऐलान किया है कि कोरोना के इलाज में कितना खर्च करेंगे.
इस बीच कई लोग आर्थिक मदद के लिए सामने आए हैं. रिलीफ फंड में पैसे जमा करा रहे हैं. इन सबके बीच पटना के महावीर मंदिर न्यास ने भी बिहार के CM रिलीफ फंड में एक करोड़ रुपये देने का ऐलान किया है. इसके साथ ही न्यास ने कहा है कि सरकारी की तरफ से परमिशन मिलेगी तो वो गरीबों के खाने की भी व्यवस्था करेंगे. इससे पहले बिहार के कई सांसदों ने एक-एक करोड़ रुपये दिए हैं. 

बिहार के MLC देवेशचन्द्र ठाकुर ने भी अपनी छह महीने की सैलरी मुख्यमंत्री सहायता कोष में देने का फैसला किया है, और राबड़ी देवी अपनी एक महीने की सैलरी देने का फैसला किया है. बिहार में कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की संख्या चार है. और एक की मौत भी हो चुकी है. वहीं, कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए, देश के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को और मजबूत बनाने के लिए 15 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान केंद्र सरकार ने किया है.
Loading...