मनावर में लड़की के साथ गलत काम करके थाने पहुंचा लड़का, और फिर जो हुआ....

मनावर नगर के ग्रीन गार्डन कॉलोनी में निवासरत जेल प्रहरी की त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग में प्रेमी ने चाकू से गोदकर हत्या कर दी। चार साल से दोनों का प्रेम प्रसंग चल रहा था, लेकिन प्रेमिका किसी और से प्यार करने लगी थी। उसने पहले प्रेमी से शादी करने से इंकार कर दिया।
दोनों के बीच विवाद हुआ तो प्रेमी ने चाकू से गोदकर उसे मौत के घाट उतार दिया। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपित खुद ही थाने पहुंच गया और हत्या करना स्वीकार किया। सूचना पर थाना प्रभारी एमपी वर्मा, एसएफएल अधिकारी पिंकी मेहरड़े, केंद्रीय जेल बड़वानी के डिप्टी सुप्रींटेंडेंट एसबी शरण व उप जेलर संजय परमार मौके पर पहुंचे।
जेल प्रहरी रानू (25) पिता संतोष वर्मा निवासी भोगावां निपानी (खरगोन) की रहने वाली थी। वर्तमान में वह मनावर में किराए के मकान में रहती थी। तेजू (27) उर्फ तेजस पिता अमरनाथ मौर्य निवासी बोथली पोस्ट पोंगरी तहसील सोहागराज (शहडोल) से उसका प्रेम प्रसंग था।
तेजू ने सुबह करीब 5 बजे रानू की चाकू से हमला कर हत्या कर दी। रानू की गर्दन में कसी रस्सी भी मिली। हत्या करने के बाद आरोपित तेजू खिड़की से करीब 15 फीट नीचे कूदकर पड़ोसी की छत से होकर उतरा। सुबह 5:30 बजे के करीब खुद थाने पहुंच गया। कहा कि मैंने रानू वर्मा की हत्या कर दी है।
इसके बाद मनावर पुलिस मौके पर पहुंची। फर्श पर शव खून से लथपथ हालत में पड़ा था। शरीर पर कई जगह चाकू के वार थे। एसडीओपी करणसिंह रावत ने बताया कि आरोपित, मृतका का पूर्व से परिचित था। उसका आना-जाना भी था। प्रेम-प्रसंग के चलते उसने हत्या की है। आरोपित ने खुद थाने आकर सरेंडर किया है। 
एसडीओपी ने बताया कि इस मामले में पूर्व में भी रानू थाने पर आई थी, लेकिन दोनों में सुलह होने के चलते प्रकरण दर्ज नहीं कराया गया था। वहीं एसएफएल अधिकारी पिंकी मेहरड़े ने बताया कि मृतका के शरीर पर गले, पेट, दोनों हाथों, पीठ सहित अन्य स्थानों पर कई बार चाकू से वार कि या गया है। मृतका के गले में रस्सी भी कसी हुई पाई गई है।
Loading...