कोरोना का खौफ : दुकानदार अब हाथ में रुपये लेने से भी घबरा रहे हैं...

नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण का खौफ लोगों के दिल दिमाग में पूरी तरह छा चुका है। इस वायरस के संक्रमण से बचने के लिए लॉक डाउन के दौरान जहां लोग अपने घरों में कैद होकर रह गए हैं, वहीं शासन व प्रशासन स्तर से जारी दिशा निर्देशों का लगातार पालन कर रहे हैं। वहीं अब जिले के व्यापारी ग्राहकों से रुपये लेने में संक्रमण को लेकर खौफजदा हो गए हैं। उन्हें डर है कि कहीं नोट के जरिए भी वह वायरस के संक्रमण में न आ जाएं। 
जिले के तहसील मुख्यालय बहरी के व्यापारियों ने तो हांथ में रुपये लेना भी बंद कर दिया है। कुछ किराना व्यापारी लॉक डाउन के दौरान निर्धारित समय पर जब दुकान खोलते हैं तो काउंटर के पास ही एक बाल्टी में डेटोलयुक्त पानी भरकर रख देते हैं, जिसमें ग्राहकों रुपये डालने के बोलते हैं। बाद में दुकान बंद करते समय नोट को बाल्टी से निकालकर धूप में सुखाते हैं फिर काउंटर में रखते हैं। 

बहरी के किराना व्यवसाई महेश किराना स्टोर के संचालक महेश ने बताया कि आवश्यक सामग्री की खरीदी के लिए तरह-तरह के लोग आते हैं, उनसे प्रशासन द्वारा निर्धारित की गई दूरी में खड़ा कर सामग्री तो देते हैं, लेकिन पैसे यदि हाथ में लिए तो कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा रहेगा। इससे बचाव के लिए हम ग्राहकों से सीधे हाथ में रुपये नहीं लेते, बल्कि पानी से भरी बाल्टी में डालने को बोलते हैं। बाद में बाल्टी से रुपए निकालकर सुखाते हैं, फिर काउंटर में रखते हैं। व्यापारियों का कहना है कि यदि स्वयं को और देश को सुरक्षित रखना है तो ऐतिहात तो बरतना ही होगा।
Loading...