यह देख हर किसी के भी मुंह से निकला, क्या ऐसा हो सकता है? पढ़ें पूरी खबर

दुनिया में कई बातें ऐसी होती हैं, जिन पर विश्वास करना काफी मुश्किल होता है। इसके लिए भलें ही कितने भी तर्क दिए जाए, लेकिन ये हर किसी के समझ में नहीं आते। ऐसे में यही कहना सही रहता है कि चमत्कार को नमस्कार! आज हम आपको जिस घटना के बारे में बताने जा रहे हैं उससे भी यही साबित होता है।
दरअसल जबलपुर (मध्य प्रदेश) के ब्राह्मण मोहल्ला पुरवा निवासी सतीश तिवारी तब हैरान रह गए जब उनके घर के पिंजरे में छह साल से बंद मादा करन तोते (एलेक्जेंड्री पैराकीट) ने अचानक कुछ ही दिनों के अंतराल में एक के बाद एक तीन अंडे दे डाले। पहला अंडा 30 जनवरी को, जबकि करीब 20-22 दिन बाद दो और अंडे दिए। हालांकि वन्य जीव विशेषज्ञ ने इसे अजूबा मानने से इंकार करते हुए कहा कि हजारों में ऐसा एक मामला सामने आता है।
उन्होंने बताया कि मादा पक्षियों का अंडे देना स्वाभाविक प्रक्रिया है जैसा कि पोल्ट्री फार्म की मुर्गियों में होता है। वे बिना निषेचन के अंडे देती हैं लेकिन उन अंडों से बच्चे पैदा नहीं होते। मादा तोते ने जो अंडे दिए, वह भी ऐसा ही मामला है। उसमें ऐसे लक्षण स्वाभाविक रूप से बने।
Loading...