बेटी को लेकर साढू का बेटा फरार, पति पत्नी और बेटे को गंड़ासे से काट डाला, दो की हुई हालत नाजुक

घर में घुसकर पति, पत्नी और बेटे की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी गई, जबकि हमले में वृद्ध मां और दूसरा पुत्र गंभीर घायल हो गया। वहीं, एक पुत्र लापता है। वारदात के पीछे उसके साढ़ू के होने की बात कही जा रही है, जो फरार है। जांच में ये बात सामने आ रही है कि साढू के पुत्री को मृतक का बड़ा पुत्र लेकर फरार हो गया है। इसी रंजिश में साढू ने साथियों के साथ मिल घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने उसकी पत्नी और पुत्रवधू को हिरासत में लिया तो साढ़ू का बेटा कुल्हाड़ी लेकर थाने पहुंच गया। इसपर पुलिस ने उसे भी हिरासत में लिया है। घटना कमालगंज के गदनपुर देवराजपुर गांव की है।
पप्पू जाटव (42) अपने परिवार समेत घर पर थे। उनकी पत्नी सुलोचना (35) खाना बनाने जा रही थी। इसी दौरान कुछ लोग घर में कुल्हाड़ी, गड़ासा लेकर घुस आए और पप्पू पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। बचाने आई सुलोचना पर भी प्रहार किए। दोनों खून से लथपथ होकर गिर गए। हमलावरों ने पुत्रों विवेक (12) रजत (10( और अतुल (7) और पप्पू की मां तारावती (65) पर भी हमला बोल दिया। अतुल घायल होकर वहीं गिर गया। विवेक और रजत घर से भाग निकले। विवेक घर से कुछ दूर खेत में मौजूद पड़ोसी महिला के पास छिप गया, जबकि रजत लापता है। गांव के लोग जब तक पहुंचे तब तक पप्पू, सुलोचना और अतुल ने दम तोड़ दिया।

पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे तो विवेक घायल अवस्था में मिला। रजत का पता नहीं चला। एसपी डॉ. अनिल कुमार मिश्रा ने भी पहुंचकर मामले की छानबीन की। घायल तारावती ने बताया कि गांव में ही पप्पू का साढ़ू अजुर्न जाटव भी रहता है। उसकी लड़की चार महीने पहले लापता हो गई थी। उसे शक था कि पुत्री पप्पू का बड़ा पुत्र दुर्वेश ले गया है। इसी रंजिश में साढू ने साथियों के साथ मिल घटना को अंजाम दिया है। हमले में आरोपी अर्जुन जाटव का पुत्र अवनीश कुल्हाड़ी समेत कमालगंज थाने पहुंचा तो हिरासत में ले लिया गया।
Loading...