"शादी कभी और कर लेंगे, पहले कोरोना से तो बच जाएं", जानिए इनके बारे में...

एक और जहां सरकारी अधिकारी कर्मचारी कोरोना के डर से घर से निकलने में परेशानी महसूस कर रहे हैं वहीं भिंड जिले के मौ सर्वल में पदस्थ नायब तहसीलदार निशीकांत जैन ने कोरोना संक्रमण से आमजनों को बचाने के लिए अपनी शादी को स्थगित कर दिया। इतना ही नहीं उन्होंने अर्जित अवकाश निरस्त करने के लिए कलेक्टर को आवेदन दे दिया जो कलेक्टर ने स्वीकृत कर लिया है।
नायब तहसीलदार जैन की मंगनी 27 फरवरी को सिवनी जिले के लखनादौन में सॉफ्टवेयर इंजीनियर अंजलि जैन से हुई थी। शादी में सिर्फ 8 दिन का समय शेष रह जाने से दोनों पक्षों ने शादी की तैयारियां लगभग पूरी कर ली थी। वर और कन्या पक्ष ने मैरिज हाउस, बैंड, क्राकरी, कैटरर्स को भी बुक कर लिया था। लगभग शॉपिंग का भी काम पूरा कर लिया गया। दोनों परिवार की ओर से नाते रिश्तेदार को चिठियां बांटने तक का भी काम शुरू कर दिया गया और 150 से अधिक कार्ड के बाट लिए गए थे।

पहले तो शादी करने को लेकर वधू पक्ष तैयार नहीं था। लेकिन जैन की सलाह पर वह मान गए। बारात 6 अप्रैल को उनके पैतृक निवास ललितपुर पाली गांव से सिवनी जिले के लखनादौन कस्बे में जानी थी। जैन ने 19 मार्च से 15 अप्रैल तक आर्जित अवकाश से छुट्टी लेने का आवेदन कलेक्टर को दिया था, कलेक्टर ने अवकाश स्वीकृत भी कर लिया।

नायब तहसीलदार निशीकांत जैन ने कोरोना संक्रमण से लोग को बचाने और देश सेवा को पहली प्रथामिकता देते हुए उन्होंने अपनी शादी की डेट को आगे बढ़ा दिया और फिर नायब तहसीलदार जाने दूसरा आवेदन देकर अपना अवकाश निरस्त करा लिया है। नायब तहसीलदार निशीकांत जैन द्वारा की गई पहल के चारों और प्रशंसा की जा रही है।
Loading...