पुलिस ने घेरकर रोकी सुनसान हाइवे पर सवारी भरी गाजियाबाद की बस को...

कोरोना के भय से देश में लागू लॉकडाउन के बीच सवारियों से खचाखच भरी बस देख नौबस्ता पुलिस के हाथ पैर फूल गए। डॉक्टरों की टीम जांच करा आगे जाने दिया। नौबस्ता थाना पुलिस बाईपास पर चेकिंग लगाए थी। शनिवार दोपहर  भाैंती-रूमा रूट से सवारी बस आती दिखी जिसकी छत पर भी लोग बैठे थे।
सिपाहियों ने घेरकर बस को रुकवाया। हापुड़ निवासी ड्राइवर शहनवा ज ने पूछताछ में बताया कि गाजियबद डीएम से परमीशन है। बस में सवार लोग कानपुर, लखनऊ, कौशांबी आैर बनारस के हैं। काम के लिए दिल्ली गए थे। नौबस्ता इस्पेक्टर आशीष कुमार शुक्ला की सूचना पर एसीएम आरपी वर्मा  पहु चे। उर्सला से डा आलोक निगम   डा. राज बहादुर  डॉ. अजीत ने बस में सवार सभी सवा रियों को उतरवाकर थर्मल स्कैनिंग की। डॉक्टरों की जांच के बाद बस को आगे जाने दिया गया।

तालिब का पारा बढ़ा देख घबराए डॉक्टर

थर्मल स्कैनिंग के दौरान उन्नाव के मौरावां निवासी ता लिब का पारा अ धिक (103) देख डॉक्टर घबरा गए और उसके पीछे हटकर कुछ देर छांव में बैठने को कहा। करीब आधा घंटा बाद दोबारा थर्मल स्कैनिंग में सामान्य आने पर राहत की सांस ली। बस रोकने के बाद सभी सवा रियों को उतरवाने के बाद बाईपास के पास धूप में लाइनबद्ध बैठाया गया था।पु लिस की पूछताछ और डॉक्टर की जांच पड़ताल में करीब दो घंटे लगे। इस दौरान सभी सवा रियां धूप में ही बैठी रहीं।
Loading...