शादी को दो साल भी नहीं हुए थे की विवाहिता की मौत से मच गया कोहराम, अय्याश मिजाज है पति

अभी शादी को दो साल भी पूरे नहीं हुए थे, नवविवाहिता की मौत से कोहराम मच गया। नौबस्ता के दासू कुंआ क्षेत्र में संदिग्ध परिस्थितियों में युवती की मौत होने पर मायके वालों ने पति पर अय्याश मिजाज होने का आरोप लगाते हुए अस्पताल में जमकर हंगामा किया। दहेज हत्या की शिकायत पर पुलिस ने पड़ताल शुरू की है।
फतेहपुर के कल्यानपुर थानाक्षेत्र के गढ़ा बड़ा खेड़ा निवासी आर्मी रिटायर्ड चंद्रभान सिंह ने अपनी बेटी रुचि परिहार की शादी फरवरी 2018 में दासू कुंआ निवासी धीरेंद्र परिहार से की थी। धीरेंद्र का डेयरी का काम है। रुचि की बड़ी बहन सीमा भी नौबस्ता में ही ब्याही है। सीमा ने बताया कि शनिवार की सुबह धीरेंद्र ने फोन कर बताया कि रुचि की तबियत बहुत खराब है, जल्दी अस्पताल आ जाओ। जब वह लोग अस्पताल पहुंचे तो उन्हें बताया कि वह इमरजेंसी में है और हालत खराब है।

कुछ देर बाद वह जबरन डॉक्टर के केबिन में घुस गई तो पता चला कि उनकी बहन की मौत तो काफी देर पहले हो चुकी है और डॉक्टर ससुराल वालों को बता भी चुके हैं। इसी बीच फतेहपुर से अन्य मायके वाले भी आ गए। रुचि के घरवालों के अस्पताल में पहुंचने पर ससुराल वाले रुचि का शव छोड़कर फरार हो गए। इसके बाद मायके वालों ने अस्पताल में ही हंगामा शुरू कर दिया। सूचना पर पहले काकादेव फिर नौबस्ता पुलिस पहुंची।

रुचि के पिता चंद्रभान सिंह ने बताया कि डॉक्टर के मुताबिक उसकी मौत जहर खाने से हुई है। पिता ने आरोप लगाया कि उसकी बेटी को जहर देकर मारा गया है, क्योंकि उनकी बेटी खुद जहर नहीं खा सकती। उन्होंने बताया कि रुचि ने शुक्रवार को ही बड़ी बहन सीमा को फोन करके बताया कि पति धीरेंद्र व सास उíमला ने उसके साथ मारपीट की है।

ससुराली कम देहज मिलने से नाराज थे और पांच लाख रुपये की मांग कर रहे थे। वहीं, मायके वालों ने रुचि के पति धीरेंद्र पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं। आरोप हैं कि धीरेंद्र के कई लड़कियों के साथ अवैध संबंध थे इसीलिए वह पत्नी के साथ मारपीट करता था। अय्याशी का रुचि विरोध करती थी, इसीलिए उसकी हत्या कर दी गई।
Loading...