युवक ने पड़ोस की नाबालिग छात्रा को जलाकर मार डाला, और फिर हुआ फरार

परसन ओपी अंतर्गत केंदुआ के ईंटासानी गांव में बीती रात करीब साढ़े आठ बजे 14 वर्षीय छात्रा काजल कुमारी की अपने घर में ही आग से जलकर मौत हो गई। घटना स्थल के पास से किरासन तेल का डिब्बा एवं एक जोड़ा चप्पल मिला है। परिजनों ने पड़ोस के 22 वर्षीय युवक पिंटू पासवान पर छात्रा को जिंदा जलाने का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि बरामद चप्पल उसी युवक का है। युवक फरार है। सूचना पाकर पुलिस मंगलवार की सुबह करीब नौ बजे मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए गिरिडीह भेज दिया।
मृतक छात्रा के पिता शंकर पासवान ने बताया कि परिवार के सभी सदस्य घर के बाहर बैठे थे। घर में अकेले उनकी बेटी थी। इसी बीच पिंटू पासवान घर के अंदर चला गया और अंदर से घर बंदकर उनकी बेटी को जिंदा जला दिया। इसके बाद छप्पर फाड़ कर वह भाग गया। चीख सुनकर जब तक वे लोग घर पहुंचे, तब तक उनकी बेटी की मौत हो चुकी थी। इधर गांव के कुछ लोगों ने बताया कि सोमवार की शाम को ही दोनों परिवारों के बीच मारपीट हुई थी जिसमें पिंटू पासवान जख्मी भी हुआ था। 

मारपीट की घटना के करीब चार घंटे बाद छात्रा की आग से जलकर मौत होने की बात सामने आयी। घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चा हो रही है। शंकर पासवान का बड़ा परिवार है। इसके बावजूद घर के अंदर घुसकर जिंदा जलाकर मारने की बात पर कुछ लोग सवाल उठा रहे हैं। इस संबंध में परसन ओपी प्रभारी रामाशंकर उपाध्याय ने बताया कि आग से जलकर छात्रा की मौत हुई है। अनुसंधान किया जा रहा है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। आरोपित पिंटू पासवान फरार है।
Loading...