CM योगी आदित्यनाथ ने देवरिया की सावित्री से वीडियो कॉल करके किया बातचीत! वजह जानिए

देवरिया के पथरदेवा ब्लाक के मलवाबार की मनरेगा मजदूर सावित्री के लिए सोमवार का दिन खुशियों भरा रहा। उसके खाते में चौदह दिन की बकाया मजदूरी का 2548 रुपए तो पहुंचा ही, उससे मुख्यमंत्री ने सीधे बात भी की। अधिकारियों की मौजूदगी में जब सावित्री के मोबाइल पर मुख्यमंत्री का वीडियो काल आया तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। सीएम ने पूछा- ‘कैसी हैं। आपके खाते में पैसा भेज दिया गया है’। सावित्री सिर्फ प्रणाम बोल पायी। इसके बाद सीएम ने करीब दो मिनट तक गांव का हाल जाना और सरकार के योजनाओं की जानकारी दी।
सरकार ने लॉकडाउन को देखते हुए मनरेगा मजदूरों के बकाए मजदूरी का भुगतान करने का निर्णय लिया। इसके तहत सोमवार को प्रदेश के सभी जिलों में मजदूरों के बकाए की धनराशि उनके खाते में भेजी गई। जिले में भी 78 मजदूरों के बकाए मजदूरी का छ: करोड़ 80 लाख रुपए आए। पथरदेवा ब्लाक की मलवाबार की सावित्री मुसहर पत्नी स्व ओमप्रकाश की भी चौदह दिन की बकाया मजदूरी का 2548 रुपया उसके खाते में आया। सुबह करीब 9 बजे डीसी मनरेगा सहित ब्लाकस्तरीय अधिकारी मलवाबार पहुंच गए। सभी सावित्री के दरवाजे पर पहुंचे, लेकिन वहां नेटवर्क की दिक्कत होने के कारण गांव के बाहर खेत में उसे ले गए। कुछ ही देर बाद सावित्री के मोबाइल पर वीडियो काल आया। उसने फोन उठाया तो फोन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दिखायी दिए। बात मुख्यमंत्री ने शुरू की। मुख्यमंत्री ने पूछा कैसी हैं आप ? आपके खाते में 2548 रुपए भेज दिए गए हैं। सावित्री इस पर सिर्फ प्रणाम बोल सकी।
फिर सीएम ने सावित्री से गांव का हाल पूछा। उन्होंने गांव में लोग कैसे हैं। सावित्री ने जबाब दिया सब ठीक हैं। इसके बाद सीएम ने कहा कि इस समय कोरोना के कारण पूरा विश्व संकट में है। प्रधानमंत्री जी और सरकार ने पूरी तैयारी की। आप लोग अपने घरों में रहें और भीड़ न लगाएं। सावित्री ने सहमति में सिर हिला दिया। फिर सीएम बोले- घबड़ाना नहीं है। सरकार पूरी व्यवस्था कर रही है। तीन महीने का राशन बिना पैसा के दिया जाएगा। उसमें दाल भी रहेगी। कहीं भी कोई दिक्कत हो तो अधिकारियों को बताएं। उसका समाधान किया जाएगा। इसके बाद मुख्यमंत्री ने अभिवादन करते हुए अपनी बात समाप्त की। सीएम से बात कर सावित्री की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। अधिकारियों ने भी ठीक से बात करने के लिए उसे धन्यवाद दिया और सावित्री को घर छोड़ सभी वहां से रवाना हो गए।

दो दिन पहले ही भेज दिया गया था सावित्री का मोबाइल नंबर

सावित्री को मुख्यमंत्री से बात करने की जानकारी पहले से ही थी। दो दिन पहले ही उसका मोबाइल नंबर अधिकारियों ने शासन को भेज दिया था। प्रमुख सचिव ने दो दिन पहले वीडियो काल कर सावित्री से बात किया था। उसके बाद सोमवार को खुद सीएम ने उससे बात की।
Loading...