‘L’ को बनाया ‘C’ व ‘5’ को बनाया ‘6’, जानिए क्या था ऐसा कारण

सीसीटीवी कैमरों की मदद से यातायात पुलिस की ओर से भेजे जाने वाले ई-चालान से बचने के लिए वाहन चालक ने वाहन का नम्बर बदला, लेकिन पुलिस ने आखिरकार उसे धर दबोचा। पुलिस ने वाहन चालक के खिलाफ धोखाधड़ी व जालसाजी का मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू की है। पुलिस के मुताबिक, यातायात पुलिसकर्मी मनमोहन कमांड एण्ड कंट्रोल रूम में ड्यूटी पर थे। 
उस दौरान अठवागेट पर सफेद रंग का एक स्कूटर चालक रॉन्ग साइड से गुजरता हुआ नजर आया। उन्होंने नम्बर प्लेट पर रजिस्ट्रेशन से नम्बर जीजे ०५ सीएन ९६४० का ई-चालान बनाया। नम्बर से पता चला कि उक्त नम्बर पर तो कोई कार रजिस्टर्ड है। जब पुलिस ने नम्बर जूम कर बारिकी से जांच की तो पता चला कि नम्बर प्लेट के साथ छेड़छाड़ की गई थी। ‘एल’ को ‘सी’ व ‘पांच’ को ‘छह’ बनाया गया था। 
पुलिस ने जीजे ०५ एलएन ९५४० के रजिस्ट्रेशन की पड़ताल की तो स्कूटर के अठवागेट नवदीप अपार्टमेंट निवासी राजन शाह का पता मिला। इस नम्बर पर कुल आठ ई-चालान भी जारी हो चुके थे। जिनकी भरपाई नहीं की गई थी। पुलिस जब उसके घर पहुंची, तब राजन का पुत्र श्रुत स्कूटर लेकर बाहर गया हुआ था। पुलिस ने मामला दर्ज कर स्कूटर जब्त कर लिया।
Loading...