लॉकडाउन : यूपी 112 में तैनात कांस्टेबल सुमन यादव और शीतल चौधरी बोलीं.."पहले ड्यूटी शादी बाद में"

प्रतापगढ़ जिले के मांधाता थाना क्षेत्र के गांव पितईपुर निवासी सुमन यादव के पिता लालजी यादव फौज से सेवानिवृत होने के बाद बैंक में कार्यरत हैं। मां कुसुम यादव गृहणी हैं। मां, पिता ने उनका रिश्ता इलाहाबाद जिले के मऊयामा क्षेत्र के गांव देवगलपुर निवासी विक्रम सिंह यादव के साथ तय कर दिया। विक्रम सिंह यादव सेना में हैं, लद्दाख में उनकी तैनाती है। होली से कुछ दिन पहले शादी की तारीख 23 मई तय हुई। तैयारियां होने लगीं। 
इस बीच कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से माहौल बिगड़ा तो दोनों ने शादी टाल दी। बिजनौर जिले के मंडावर थाना क्षेत्र के गांव किशनपुर निवासी शीतल चौधरी के पिता राजेश सिंह चौधरी कृषि करते हैं। बीएड करने के बाद शीतल पुलिस में भर्ती हो गईं। बिजनौर जिले के ही गांव कबूलपुर निवासी रजत सिंह अहलावत से उनकी शादी तय हुई। वह भी पुलिस में कांस्टेबिल है, वर्तमान तैनाती बदायूं जिले के इस्लामनगर थाना में है। 

20 अप्रैल को शादी तय होने थी मगर उन्होंने भी टाल दी। अगली तारीख बाद में तय करेंगे। पुलिस अधीक्षक अभिषेक दीक्षित ने बताया कि शादी की जानकारी मिली तो शनिवार की दोपहर शीतल चौधरी और सुमन यादव को बुलवाकर बात की। दोनों सिपाहियों ने फर्ज के लिए शादी टालने की बात बताई। महिला सिपाहियों के जज्बे से महकमे के दूसरे लोगों को भी प्रेरणा मिलेगी।
Loading...