आग से आशियाना व पूरा सामान हो गया स्वाह, 12 मेमने भी बन गए काल का ग्रास!

जैसलमेर के मोहनगढ़ नहरी क्षेत्र में आए एमजीएम में एक झोंपड़ी में अचानक से आग लगने से उसमें रखा सारा घरेलू सामान में व 12 मेमने जलकर राख हो गए। इसके साथ ही वहां रखा खाने पीने का सामान, कागजात, गहने व नगदी जलकार राख हो गई। झोंपड़ी के पास ही बना एक छप्परा भी पूरी तरह से जल गया। आग लगने के कारण पूरा परिवार खुले आसमान के नीचे आ गया। 
जानकारी अनुसार रावताराम पुत्र राणाराम भील निवासी लोहिया पाड़ा मोहनगढ़ हाल निवासी एमजीएम टेल में आई अपनी रहवासी ढाणी में अपने परिवार के साथ निवास कर रहा है। सोमवार को अचानक से रहवासी झोंपड़ी में अचानक से आग लग गई। आग लगने से रहवासी झोंपड़ी व उसके पास बना घास फूस का बना छप्परा भी जलकर राख हो गया। बताया जा रहा है कि अग्निकांड में खाने पीने का सामान, बर्तन, कपड़ेए बिस्तरए 20 हजार रुपए, नकदी, बकरी के 12 बच्चे जलकर राख हो गए। 

नहरी क्षेत्र में आगजनी की जानकारी मिलने पर उपनिवेशन तहसील मोहनगढ़ के तहसीलदार भैराराम मौके पर पहुंचे। इनके साथ समाजसेवी अंतर खां सांवरा, अकबर खां व पटवारी भी पहुंचे। जहां पर आगजनी स्थल का मौका मुआयना किया गया। रोते बिलखते परिजनों को ढांढस बंधाया गया। तहसीलदार की ओर से भोजन सामग्री का किट भी उपलब्ध करवाया गया। समाजसेवी अंतर खां सांवरा द्वारा भी भोजन सामग्री उपलब्ध करवाई गई।