लॉकडाउन : 20 अप्रैल से सभी नेशनल हाइवे पर शुरू किया जाएगा टोल वसूली...

कोरोना महामारी और लॉकडाउन की वजह से 24 मार्च से देशभर में टोल कलेक्शन बंद है. अब तक टोल ऑपरेटर्स को इस वजह से हजारों करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है. अब सरकार ने सभी राष्ट्रीय राजमार्गों को खोलने की तैयारी कर ली है. 20 अप्रैल से सभी नेशनल हाईवे पर टोल वसूला जाएगा.
सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने सर्क्युलर जारी कर कहा है कि 20 अप्रैल से टोल को वसूली बहाल कर दी जाएगी.लॉकडाउन के चलते 24 मार्च की आधी रात से राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल वसूली स्थगित कर दी गई थी. वहीं, सरकार के इस आदेश का परिवहन उद्योग से जुड़े लोगों ने विरोध किया है.

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने एनएचएआई को लिखे पत्र में कहा है, ‘केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा सभी ट्रकों और अन्य मालवाहक वाहनों को राज्य के भीतर और राज्यों में आवागमन के लिए जो छूट दी गयी थी, उसी संबंध में एनएचएआई को गृह मंत्रालय के आदेश का पालन सुनिश्चित करने के लिए जरुरी कार्रवाई करनी चाहिए और टोल टैक्स की वसूली 20  अप्रैल, 2020  से की जानी चाहिए.’

NHAI के पत्र का जवाब देते हुए  मंत्रालय ने कहा कि एनएचएआई ने 11 और 14 अप्रैल की अपनी चिट्ठियों में टोल टैक्स वसूली शुरू करने का कारण बताते हुए कहा था कि गृह मंत्रालय ने व्यावसायिक एवं निजी प्रतिष्ठानों और विनिर्माण गतिविधियों सहित कई कार्यों को 20 अप्रैल से अनुमति दे दी है. पत्र में लिखा है कि NHAI ने कहा है कि टोल टैक्स की वसूली से सरकार को राजस्व मिलता है और इससे एनएचएआई को भी धन लाभ होता है.

हालांकि, परिवहन उद्योग से जुड़े ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने सरकार के इस कदम का विरोध करते हुए कहा है कि यह बहुत ही गलत है, सरकार चाहती है कि आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति अबाध जारी रहे, और हमारा समुदाय तमाम बाधाओं के बावजूद ऐसा कर रहा है. एआईएमटीसी के तहत करीब 95 लाख ट्रक और परिवहन प्रतिष्ठान आते हैं.