लॉकडाउन में भांग खाकर बुलंदशहर में 2 साधुओं की कर दिए हत्या, अब ऐसी वजह आई सामने

बुलंदशहर जिले के अनूपशहर कोतवाली एरिया के पगोना गांव में हुई सोमवार देर रात दो साधुओं की हत्या का यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लिया है। उन्होंने जिले के डीएम और एसएसपी को मौके का निरीक्षण कर जांच रिपोर्ट मांगी है। वहीं, पुलिस ने दावा किया है कि हत्या के मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। एसएसपी का कहना है कि नशेड़ी युवक ने दो साधुओं की तलवार से हत्या की है।
जानकारी के अनुसार, पगोना गांव स्थित मंदिर में दो साधुओं की गला काटकर हत्या कर दी गई। मंगलवार सुबह ग्रामीणों की हत्या का मालूम हुआ तो क्षेत्र में सनसनी मच गई है। वहीं, मामला यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ तक पहुंचा। सीएम ने पूरे मामले की जांच रिपोर्ट अधिकारियों से मांगी है। 
सीएम तक मामला पहुंचने के बाद आनन-फानन में मौके पर डीएम रविंद्र कुमार और एसएसपी संतोष कुमार ने मौके पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लिया। उधर, घटना के बाद सोशल डिस्टेंसिंग को तोड़ते हुए मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ मंदिर पर इक्ट्ठा हो गई। उधर, हत्या की सूचना मिलने पर गंगा पार से साधु संत मौके पर पहुंचे और संत समाज ने घटना की निंदा की है।

मौके पर पहुंचे एसएसपी संतोष कुमार ने बताया कि राजू नाम के एक शख्स को गिरफ्तार किया गया है। एसएसपी संतोष कुमार ने बताया कि साधुओं की हत्या नशेड़ी युवक ने की हैै युवक ने साधुओं का कीर्तन का सामान चुराकर ले गया था। जिसपर साधुओं ने उसे डांट लगा दी थी। जिसके चलते उसने साधुओं की तलवार से हत्या कर दी। पुलिस का कहना है कि आरोपी अपराधी किस्म का है। 
हत्या के मामले में यह सजायाफ्त चल रहा है। 6 माह पहले ही जेल से रिहा होकर आया था। डीएम ने बताया कि आरोपी ने पूछताछ के दौरान कबूल किया है कि भांग खाकर दोनों की लाठी-डडों से पीटा था। उधर, सूचना मिलने पर पहुंचे साधु जमना गिरी ने साधुओं की सुरक्षा की मांग की है। उनका कहना है कि यह घटना निदंनीय है। साधुओं की हत्या को लेकर राजनीति भी शुरू हो गई। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर योगी सरकार पर निशाना साधा है।