जानिए, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए कैसे करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन, इस लॉकडाउन में 3 महीने तक मुफ्त सिलेंडर दे रही है सरकार

केंद्र सरकार ने लॉकडाउन के चलते प्रभावित हुए गरीब परिवारों को राहत देने के लिए कई ऐलान किए हैं। इनमें से ही एक ऐलान 8.3 करोड़ उज्ज्वला योजना की लाभार्थी महिलाओं को तीन महीने तक मुफ्त सिलेंडर दिया जाना भी है। यह स्कीम 2016 में मोदी सरकार ने ग्रामीण और गरीब परिवार की महिलाओं पर फोकस करते हुए शुरू की थी, जिसका लक्ष्य स्वच्छ ईंधन को बढ़ावा देना और महिलाओं को धुंए से बचाना भी है। 
सरकार ने पहले इस स्कीम के तहत 8 करोड़ लाभार्थियों को ही जोड़ने का फैसला लिया था, जिसे सितंबर, 2019 में हासिल कर लिया गया था। अब सरकार इस स्कीम से 10 करोड़ लोगों को जोड़ने का प्लान बना रही है। आइए जानते हैं कैसे इस स्कीम के लिए किया जा सकता है अप्लाई…

BPL सूची में नाम है, तभी मिलेगा कनेक्शन
इस स्कीम के लिए अप्लाई करने से पहले यह ध्यान रखें कि आपका नाम बीपीएल सूची में है या नहीं। यदि आपका नाम इस लिस्ट में है, तभी इस स्कीम के लिए आप आवेदन कर सकते हैं। यह स्कीम महिलाओं के लिए है, ऐसे में यह जरूरी है कि आप परिवार की महिला के नाम पर ही आवेदन करें। लाभार्थी महिला की आयु 18 साल से अधिक होनी चाहिए। इसके अलावा यह भी शर्त है कि परिवार में पहले से एलपीजी कनेक्शन नहीं होना चाहिए। एक निश्चित आय सीमा से अधिक परिवार की आय नहीं होनी चाहिए। यह भी जरूरी है कि परिवार का नाम ऑयल मार्केटिंग कंपनियों के बीपीएल डेटाबेस में दर्ज हो।

जानें, कौन सी डिटेल देनी होंगी
किसी भी नजदीकी एलपीजी वितरक के पास जाकर इस स्कीम के तहत आवेदन किया जा सकता है। इस स्कीम के लिए आवेदन करते समय महिला को जन धन बैंक खाते की डिटेल, अपना पता और आधार नंबर की जानकारी देनी होगी। यही नहीं महिला को परिवार के सभी सदस्यों के आधार नंबर बताने होंगे ताकि यह पता लग सके कि पहले से किसी मेंबर के नाम पर एलपीजी कनेक्शन तो नहीं है। 
आवेदन करने के बाद आपका फॉर्म एलपीजी वितरक की ओर से ऑयल मार्केटिंग कंपनी को भेज दिया जाएगा। कंपनी की ओर से वेरिफिकेशन मिलने के बाद ही आपको एलपीजी कनेक्शन मिल जाएगा। बता दें कि पीएम उज्ज्वला योजना के तहत कनेक्शन मुफ्त में मिलता है। इसके बाद सिलेंडर को रिफिल कराने पर हमेशा सब्सिडी दी जाएगी।