48 घंटे में कम्पलीट लाॅकडाउन रहेगा पूरा शहर, बाहर निकले तो हो जाएगी हवालात!

21 दिन के लाॅकडाउन में सब्जी, किराना और दूध के बहाने घर से बाहर निकलने वालों पर बुधवार से पुख्ता सख्ती की जाएगी। कोरोना वायरस पर काबू करने के लिए बुधवार से 48 घंटे के लिए जिले को मुकम्मल लाॅकडाउन किया जा रहा है। हालात को देखते हुए शुक्रवार को आगे की रणनीति तय हेागी। प्रषासन और पुलिस ने तय किया है कि अगले दो दिन तक लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने दिया जाएगा। सिर्फ दवा दुकानें खुलेंगे।
बिना वजह सडक पर जो घूमता मिलेगा उसे हवालात में बैठाया जाएगा और गाडी को जप्त किया जाएगा।
दरअसल प्रदेष में लाॅक डाउन के बावजूद कोरोना वायरस के मरीजों की गिनती में लगातार इजाफा भी हो रहा हैं। लोगों को बाहर निकलने से रोकने के लिए सरकार ने कलक्टर, एसपी को हालात के हिसाब से काम करने के निर्देष दिए हैं। अभी तक लाॅकडाउन में लोग पुलिस की सख्ती के बावजूद बाहर निकलने के बहाने भी तलाष कर सडकों पर आ रहे थे। 

इन लोगों को रास्ते में पुलिस रोककर टोक रही थी तो तफरी करने वाले इसके लिए सब्जी, दूध, किराना और दवा खरीदने का बहाना बताकर चकमा देते रहे। सडकों पर लोग घूम रहे हैं तो लाॅक डाउन का क्या मतलब है। इन हालातों की वजह से प्रदेश के दूसरे शहरों में कोरोना मरीजों की गिनती में लगाता इजाफा भी हो रहा है। इसलिए प्रषासन और पुलिस ने तय किया है दो दिन तक जिले को कम्पलीट लाॅक डाउन किया जाएगा।
Loading...