कोरोना हॉटस्पॉट पर सर्वे करने पहुंची नर्सों के साथ हुआ छेड़छाड़, 4 लड़के हुए गिरफ्तार और फिर जो हुआ...

अब तक कोरोना वारियर्स पर हमले की खबरें सामने आ रही थी लेकिन कानपुर के हॉट्सपॉट इलाके चमनगंज में  सर्वे करने पहुंची मेडिकल टीम में शामिल नर्सों के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आया है. इतना ही नहीं नर्सों नें जब इसकी मुखालिफत की तो मुल्ज़िमीन ने उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी है. जिसके बाद छेड़छाड़ करने वाले चारों मुल्ज़िमीन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. 
बाताया जा रहा है कि यह चारों मुल्ज़िम चमनगंज के ही रहने वाले हैं, जिनकी शनाख्त कलीम, बजी, अमजद और सलीम के तौर पर हुई है. इस मामले में डीआईजी अनंत देव ने इन चारों मुल्ज़िमीन पर NSA (कौमी सिक्योरिटी कानून) के तहत कार्रवाई का हुक्म दिया है.
चमनगंज के इंस्पेक्टर राजबहादुर सिंह ने बताया कि कोरोना मुश्तबा मरीज़ों की शनाख्त के लिए मेडिकल टीमें इलाके में सर्वे कर रही हैं. इस इलाके को कोरोना हॉटस्पॉट ऐलान किया गया है. उन्होंने मज़ीद बताया कि चारों मुल्ज़िमीन नर्सों के साथ गुज़िश्ता कुछ दिनों से लगातार छेड़छाड़ कर रहे थे और उन्होंने गुज़िश्ता सनीचर को भई एक बार फिर नर्सों पर फब्तियां कसीं और फहश हरकतें भी कीं.  जिसके बाद इन नर्सों ने शोहदों की शिकायत कानपुर मगरिब के एसपी डॉ. अनिल कुमार को दी.
जिसके बाद एसपी डॉ. अनिल कुमार ने चमनगंज में सर्वे कर रही नर्सों के साथ बगैर वर्दी के ख्वातीन पुलिस मुलाज़िमीन को भेजा. नर्सों को दोबारा देख चारों मुल्ज़िमीन ने छेड़खानी की लेकिन इस बार पुलिस के हत्थे चढ़ गए. पुलिस ने इस पूरी वारदात का वीडियो भी बनाया है. अब मुल्ज़िमीन पर इजतेमाई छेड़खानी, धमकी देने की दफा में केस दर्ज किया गया है और आगे इन पर NSA के तहत की होगी.