5 अप्रैल को दीया और मोमबत्ती जलाने के बाद रहें सावधान, भारतीय सेना ने जारी की...

कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग में सामूहिक शक्ति के प्रदर्शन के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए लोगों से अपने घरों की लाइट बंद कर घर की बालकनी या छत पर जाकर दीया, मोमबत्ती, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने का आग्रह किया है।
प्रधानमंत्री की इस अपील के बाद अब भारतीय सेना ने लोगों की सेहत को ध्यान में रखते हुए एक एडवाइजरी जारी की है। इस एडवाइजरी में सेना ने सलाह दी है कि 5 अप्रैल को दीया या मोमबत्ती जलाने के बाद अपने हाथ जरूर धोएं। हालांकि, इस साबुन का ही इस्तेमाल करें, एल्कोहल वाले सेनेटाइजर का इस्तेमाल बिल्कुल नहीं करें। ऐसा इसलिए क्योंकि एल्कोहल में आग जल्दी पकड़ती है।

विश्व में इस बीमारी के हजारों की जान ले ली है। भारत में भी इस वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देशवासियों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग में सामूहिक शक्ति को प्रदर्शित करने के लिए रविवार पांच अप्रैल को रात नौ बजे अपने घरों की बालकनी में खड़े रहकर मोमबत्ती, दीये, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं।