लॉकडाउन में एक साथ महिला ने 5 बच्चों को दिया जन्म, सभी बच्चे बताए जा रहे हैं अंडरवेट...

बाराबंकी के सूरतगंज में आज सुबह एक युवती अनीता गौतम (32) ने पांच बच्चों को जन्म दिया। प्री मैच्योर डिलिवरी होने के कारण सभी बच्चे अंडरवेट हैं जिन्हें एनआईसीयू में रखा गया है। महिला की डिलिवरी 7 महीने में हुई है। पति कुंदन गौतम ने बताया कि सुबह उसकी पत्नी अनीता बाथरूम गई थीं वहां पर प्रसव पीड़ा के बाद एक बच्चे का जन्म हो गया। आनन-फानन में आशाबहू को बुलाया गया और ऐंबुलेंस की मदद से सीएचसी सूरतगंज ले जाया गया। वहां पर सुबह 8 बजे चार बच्चों ने जन्म लिया।
सीएचसी प्रभारी डॉ राजर्षि त्रिपाठी ने बताया कि इस तरह के केसों को क्विनट्यूपलेट कहा जाता है जिसमें मल्टीपल डिलिवरी होती है। उन्होंने बताया कि सभी बच्चे अंडरवेट हैं इसलिए हमारे सामने अभी चुनौती है कि पहले उनका वर्जन नॉर्मल किया जाए। पांच बच्चे होने की वजह से नवजातों का वजन सामान्य से कम है। इनमें से दो के वजन एक किलो सौ ग्राम है वहीं दो का 900 ग्राम है। एक का 800 ग्राम है।
उन्होंने बताया कि अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट में मल्टीपल बेबी लिखा था। पांच बच्चे होने का जिक्र नहीं था। सभी बच्चे अलग अलग लेयर में थे। बच्चेदानी में उनकी नाल अलग अलग जगह जुड़ी थीं जिससे उन्हें पोषक तत्व मिल रहे थे। दो बच्चों में सांस लेने में दिक्कत हो रही है जिस पर उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है।
जिला महिला अस्पताल के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ इंद्रभुवन तिवारी ने बताया कि अनीता को 7 महीने में प्रीमैच्योर डिलेवरी हुई है। एक बच्चे के सिर में चोट है। शेष ठीक हैं लेकिन प्रीमेच्योर जन्म के कारण इनमें खून की नली, दिमाग, फेफड़े, आंख और दिल के पूर्ण विकसित न होने की आशंका है।