7 घंटे दवा के कार्टन में रखा रहा लड़की का शव, लड़के की गिरफ्तारी के बाद खुला पूरा राज

आगरा के थाना शाहगंज के गजानन नगर में युवती की हत्या कर शव फेंके जाने की घटना का पुलिस ने 24 घंटे में खुलासा कर दिया। एक नेत्र चिकित्सालय के कंपाउंडर ने युवती की हत्या कर शव फेंका था। पुलिस के मुताबिक, कंपाउंडर ने शादी के लिए कहने पर युवती की हत्या की है। इसके बाद शव को कार्टन में रखने के बाद बाइक से फेंककर आया था। आरोपी को भी पकड़ लिया गया है।
बुधवार रात को गजानन नगर में एक कार्टन में महिला का शव मिला था। उसके हाथ पर किरन लिखा हुआ था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हाउस भेजा। बृहस्पतिवार को मृतका की शिनाख्त शाहगंज के प्रकाश नगर निवासी किरन (30) पुत्री राम सिंह के रूप में हुई। परिजनों ने पुलिस को बताया कि किरन 10 बजे घर से निकली थी। इसके बाद वापस नहीं आई। लॉकडाउन होने की वजह से उसे ढूंढ नहीं पाए। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद के मुताबिक, किरन तीन साल पहले गढ़ी भदौरिया स्थित एक नेत्रालय में नौकरी करती थी। यह नेत्रालय फिरोजाबाद के एक चिकित्सक का है। यहां पर फिरोजाबाद के थाना दक्षिण स्थित हुमायूंपुर गौतम नगर का आनंद उर्फ अतुल पुत्र राजपाल भी कंपाउंडर का काम करता है। आनंद और किरन में प्रेम संबंध हो गए।
आनंद पहले से शादीशुदा था। उसके तीन बच्चे भी हैं। मगर, किरन को इस बारे में नहीं बताया था। दो साल पहले किरन के घरवालों को दोनों के प्रेम संबंध की जानकारी हुई। उन्होंने किरन को नौकरी से हटवा दिया। इसके बावजूद किरन मिलने जाती थी। किरन आनंद से शादी के लिए कह रही थी। मगर, वो शादी करने के लिए राजी नहीं था। किरन के ज्यादा जिद करने पर हत्या का प्लान बनाया। आनंद नेत्रालय में ही रहता था। लॉकडाउन में चिकित्सालय बंद है। किरन उससे मिलने गई थी। दोपहर तकरीबन 12:30 बजे गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद सात घंटे तक शव एक कार्टन में रखे रहा। शाम तकरीबन साढ़े सात बजे अंधेरा होने पर बाइक पर कार्टन रखकर गजानन नगर लेकर चला गया। शव फेंकने के बाद भाग गया। पुलिस ने आनंद को पकड़ लिया है।
जिस कार्टन में किरन के शव को रखा गया था, वो दवा का था। पुलिस को पता था कि कार्टन किसी दवा विक्रेता या फिर चिकित्सक के पास ही आ सकता है। इसलिए पुलिस उसके बारे में पता करने में लगी हुई थी। जिस स्थान पर लाश फेंकी गई, वहां पर एक सीसीटीवी कैमरा लगा था। इस कैमरे में बाइक आ गई। 
इसके बाद आसपास के कई और कैमरे चेक किए गए। बाइक का नंबर मिलने पर पुलिस को आरोपी का पता मिल गया। मृतका किरन के पिता की मौत हो चुकी है। घर में मां और एक छोटी बहन है। किरन ने शादी नहीं की थी। उसकी छोटी बहन की शादी हो चुकी है। बेटी की मौत से मां के आंसू नहीं रुक रहे हैं। परिवार के लोग उन्हें संभाल रहे हैं।