लॉकडाउन में बीमार बाप को रिक्शे पर बैठाकर 7 किमी तक ले गई बेटियां, बिना इलाज के ही भेज दिया वापस

कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए देश भर में पिछले एक महीने से लॉकडाउन लगा हुआ है, जो 3 मई तक चलेगा। इसी बीच उत्तर प्रदेश के संत कबीर नगर जिले से एक ऐसी तस्वीर सामने आई है, जिसे देखकर आप भी विचलित हो जाएंगे। दरअसल, यहां मासूम बच्चियां अपने बाबा के इलाज के लिए दर-दर भटक रही है।
आपको बता दें कि संतकबीरनगर के धनघटा थाना क्षेत्र के कठवतिया गांव की रहने वाली मासूम संजना पर लॉकडाउन एक मुसीबत का पहाड़ बनकर टूटा है, अपने बीमार बुजुर्ग बाबा राजदेव को रिक्शे पर लादकर खुद उसे खींचकर 7 किलोमीटर तक गोरखपुर के सिकरीगंज कस्बे इलाज करवाने के लिए निकली। 

लेकिन संजना को बीच में ही पुलिसकर्मियों ने रोक दिया। सिकरीगंज बॉर्डर पर पुलिस ने संजना को रोक लिया और उसे लॉकडाउन का हवाला देकर वापस लौटा दिया। जिसके चलते वो अपने बुजुर्ग बाबा का इलाज नहीं करवा पाई और निराश होकर ठेले को खींचते घर वापस हो गयी।