7 दिन इंदौर के लिए पड़ेगा काफी ज्यादा भारी, ऐसी रहेगी सख्ती!

इंदौर में बीते 2 दिनों से पुलिस प्रशासन ने लॉकडाउन और कफ्र्यू के मामले में सख्ती कर रखी है, हालांकि कल शाम दूध वितरण के लिये 2 घंटे की जो ढील दी गई उसका भी लोगों ने दुरुपयोग किया और भीड़ के रूप में सड़कों पर उतर आये, जिसके चलते आज सुबह घरों तक ही दूध पहुंचाने के इंतजाम किये गये, क्योंकि कोरोना मरीजों की संख्या बढऩे के चलते अब प्रशासन का कहना है कि 7 दिनों तक इसी तरह सख्ती रहेगी और कोई भी व्यक्ति अपने घर से बाहर ने निकले।
रववार की दोपहर 1 बजे से कलेक्टर मनीष सिंह ने सख्ती शुरु करवाई, वरना उसके पहले सुबह 7 से 1 बजे तक जो ढील साग-सब्जी, दूध, किराना, दवाई और अन्य आवश्यक वस्तुओं के लिये दी जा र्ही थी उसमें लोग सड़कों पर तफरीह करने के लिये उतर पड़े और कई स्थानों पर जबरदस्त भीड़ भी उमड़ पड़ी और फिर कल सुबह से पूरी तरह से लॉकडाउन घोषित किया गया। 

मीडिया में मचे हल्ले के चलते शाम को 2 घंटे दूध वितरण की छूट फिर भारी पड़ा और लोग घरों से निकल पड़े अब कलेक्टर मनीष सिंह का कहना है कि अगले 7 दिन इसी तरह की सख्ती कायम रहेगी और दूध घरों तक पहुंचाया जायेगा। आज सुबह से इसकी व्यवस्था भी की गई है। प्रयास यह भी किये जा रहे है कि लोगों को अधिक से अधिक दूध पावडर के पैकेट दिये जाये कि वे ताकि अगले 4-5 दिन घर पर ही दूध तैयार कर सकें। सांची से भी इस बारे में बात की जा रही है, ताकि दूध पैकेट के अलावा दूध पावडर भी हासिल किया जा सके।