लॉकडाउन के कारण ठेला से ही दरभंगा के लिए निकल पड़े पिता और पुत्र!

बनारस में कोराना वायरस के मरीज मिलने व उसके सील होने की सूचना पर पिता-पुत्र ठेला चलाकर ही बिहार के दरभंगा के लिए निकल गए। गुरुवार को चित्तू पांडेय चौराहे पर पुलिस ने पिता-पुत्र को रोक लिया। उनके बारे में विस्तृत जानकारी लेते हुए इलाज के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।
बृजभान पासवान व उनका बेटा विशंभर पासवान बनारस के लहुराबीर पर जूस की दुकान चलाते हैं। इधर लाकडाउन के बाद उनका धंधा पूरी तरह से बंद चल रहा था। किसी तरह से बाप-बेटा दिन काट रहे थे। इसी बीच किसी ने पूरे बनारस के सील होने की खबर दोनों को दी। इस पर बाप-बेटा किसी तरह से घर निकलने के तैयारी कर लिए। फिर दोनों ने ठेला को ही लेकर चलने की योजना बना ली।

मंगलवार की भोर बाप-बेटा दरभंगा के लिए निकल गए। बलिया पहुंचने पर चित्तू पांडेय चौराहा पर तैनात पुलिस कर्मियों ने इन दोनों को रोक लिया। इसके बाद दोनों के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी ली। चेकअप के बारे में इन दोनों ने बताया कि कोई जांच नहीं हुई है। इस पर पुलिस ने दोनों को जिला अस्पताल में जंच के लिए भेज दिया। पुलिस ने चेतावनी दिया कि तुम दोनों जांच कराने के बाद ही यहां से जाए।