लॉकडाउन : महाराष्ट्र में फंसे मजदूरों ने झारखंड सरकार से मांगी मदद!

महाराष्ट्र के ठाणे जिले में लॉकडाउन से फंसे पाकुड़ के मजदूरों ने रविवार को सोशल मीडिया के माध्यम से झारखंड सरकार से मदद मांगी है। हिरणपुर थाना के धोवाडांगा गांव के मजदूर राम दयाल साहा, संजीवन साहा, सुनील साहा, मिठुन साहा और देवेन साहा पिछले दिनों रोजी-रोटी की तलाश में मुंबई (महाराष्ट्र) गए थे। इन लोगों को मुंबई से करीब एक सौ किलोमीटर दूर ठाणे जिले बदलापुर थाना के शांति नगर में काम मिला था। 
वेलोग वहां के पूर्वी पानी टंकी में एक कमरा किराया में लेकर रहते हैं। 25 मार्च को देश में लागू हुए लॉकडाउन से उनका रोजगार छीन गया और वे फंस गए। राम दयाल ने फोन से रविवार को बताया कि उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से महाराष्ट्र एवं झारखंड सरकार से मदद करने की गुहार लगाई है। उन्होंने बताया कि उनके पास खाने का कोई सामान नहीं है तथा पैसा भी खत्म होने वाला है। मकान का किराया भी वे दे नहीं पा रहे हैं।

इसको लेकर वे काफी परेशान हैं। उन्होंने बताया कि अगर वे बीमार पड़ गए तो पैसा के अभाव में इलाज नहीं करा पाएंगे। उन्होंने दोनों सरकारों से जल्द राहत देने एवं यहां से अपना गांव भेजने की मांग की है। उन्होंने बताया कि उनके पड़ोसी जिला साहिबगंज के बरहेट थाना क्षेत्र अंतर्गत तलबड़िया के कालाचंद, संजय व अन्य तथा कुसमा गांव के अनेक मजदूर यहां हैं। उन्होंने बताया कि उनकी भी हालत हमारी जैसी हो गई है।
Loading...