कोरोना के समय सूटकेस में बंद होकर पहुंचा दोस्त के घर, और फिर जानिए क्या हुआ!

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है और लोग अपने घरों में कैद रहने को मजबूर हैं. ऐसे में अब लोग पुलिस और प्रशासन की सख्ती से बचकर लॉकडाउन तोड़ने की नई-नई तरकीब की खोज में जुटे हुए हैं. कुछ ऐसा ही हुआ कर्नाटक के मेंगलुरु में, जहां घर में एक लड़के का मन नहीं लग रहा था और उसे अपने दोस्त से मिलना था. लेकिन सड़कों पर पुलिस की मुस्तैदी की वजह से वो ऐसा नहीं कर पा रहा था. ऐसे में एक दोस्त ने दूसरे दोस्त से मिलने की जो तरकीब निकाली वो जानकर आप हैरान रह जाएंगे.
एक युवक ने दोस्त से मिलने के लिए खुद को एक सूटकेस में बंद कर लिया और फिर दूसरा दोस्त आकर उस सूटकेस को अपने अपार्टमेंट में ले गया. वहां उसने जैसे ही अपने दोस्त को सूटकेस से बाहर निकालने की कोशिश किया वो पकड़ा गया. यह घटना आर्य समाज रोड पर स्थित एक अपार्टमेंट परिसर की है जहां वह रहता था. दरअसल उस युवक ने ये तरीका इसलिए निकाला क्योंकि लॉकडाउन नियमों के कारण अपार्टमेंट में नए लोगों की आवाजाही पर सख्त प्रतिबंध लगा हुआ था. 

छात्र ने अपने दोस्त को फ्लैट में लाने के लिए ये योजना बनाई. दोस्त को एक बड़े से सूटकेस में छिपा दिया और जब सूटकेस को अपार्टमेंट परिसर में ला रहा था तो वो लड़खड़ा गया जिससे लोगों को उस पर शक हो गया. अपार्टमेंट के लोगों ने संदेह होने के बाद सूटकेस खोला तो लोग यह देखकर अचरज में पड़ गए कि उसमें से एक इंसान निकला. लोगों ने तुरंत पुलिस को इसकी सूचना दी जिसके बाद दोनों दोस्तों को पूछताछ के लिए कादरी पुलिस स्टेशन ले जाया गया.