लॉकडाउन में आधा शराब पी गया ड्राइवर, बाकी बेचने की फिराक में पुलिस ने उसको दबोचा

कवर्धा से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर आबकारी विभाग और पुलिस की टीम ने एक शराब से भरे कंटेनर को जब्त किया। इस कंटेनर में 799 पेटी गोवा शराब मिला है। पुलिस ने शराब व वाहन को जब्त कर आरोपी को जेल भेज दिया। मध्यप्रदेश के धार जिले से 19 मार्च को कंटेनर पीबी 65 एवी 1121 में 800 पेटी शराब भरकर रवाना किया गया। 4 अप्रैल तक शराब की डिलीवरी अरूणाचल प्रदेश में होना था लेकिन ड्राइवर नसीब सिंह इसे छत्तीसगढ़ से रास्ते ले आया। इस दौरान देशभर में लॉकडाउन हो गया।
चूंकि इस वाहन का पास इस रूट का नहीं है तो यह कवर्धा से 7 किलोमीटर दूर राम्हेपुर के पास ही वाहन खड़ी कर दिया। इस दौरान कुछ पौवा शराब खुद पी गया और कुछ बेच दिया। इसके साथ ही रविवार को यह शराब बेचने की फिराक में था कि आबकारी विभाग को इसकी सूचना मिली। आबकारी विभाग पुलिस की मदद से दबिश देकर कार्रवाई की। कोतवाली पुलिस की मदद से आरोपी को गिरफ्तार किया और 799 पेटी शराब जब्त किया गया। आबकारी अधिकारी जीपीएस दर्री ने बताया कि शराब की कुल कीमत 38 लाख रुपए है।

शराब की होम डिलीवरी के नाम पर ऑनलाइन ठगी से बचें
कवर्धा. सोशल मीडिया में शराब की होम डिलीवरी का ऑफर देने वाले मैसेज ऑनलाइन ठगी करने वालों का बिछाया हुआ जाल है। लोग इसके झांसे में न आएं। इसके लिए जिला पुलिस द्वारा सतर्क किया गया है। ऑनलाइन फ्राड करने वाले इस तरह के लुभावने ऑफर दे रहे हैं। इस संबंध में पुलिस मुख्यालय ने एडवाइजरी जारी करके लोगों को अलर्ट रहने के लिए कहा है। 

इस तरह की ठगी से बचने के लिए सतर्क रहने की आवश्यकता है। साथ ही एडवाइजरी में बताया गया है कि लॉकडाउन के चलते प्रदेश में शराब दुकानें बंद हैं। सरकार ने ऑनलाइन शराब बेचने की किसी भी तरह की घोषणा नहीं की है। ऐसे में ऑनलाइन शराब बिक्री और घर तक डिलीवरी करने का जो मैसेज आ रहे हैं वह केवल ठगी का नया तरीका है। लॉकडाउनर का हवाला देकर ऑनलाइन पेमेंट अपने दिए अकाउंट में करवा रहे हैं। इससे सावधान रहने की आवश्यकता है।