ग्रामीणों को कोरोना फैलने का है काफी डर, इसलिए इनको भी पहना दिए मास्क!

कोरोना के फैलते प्रकोप के चलते जहां देशभर में प्रधानमंत्री ने 21 दिन का लॉकडाउन लागू किया है. लोग घरों में कैद हैं और कोरोना से बचने के लिए सैनेटाइजर, मास्क का इस्तेमाल कर रहे हैं और सोशल डिस्टेंसिंग अपना रहे हैं. वहीं, एमपी के सीहोर में अनोखी तस्वीर देखने को मिली है. कोरोना का संक्रमण मवेशियों में न फैले इसके लिए ग्रामीणों ने मवेशियों, बैल, भैंस को मास्क बनाकर पहनाए हैं.
सीहोर जिले के ग्राम चंदेरी के ग्रामीणों ने कोरोना के फैलते संक्रमण से बचने के लिए भैंस, बैल को मास्क बनाकर पहना दिए हैं जिससे मवेशियों से कोरोना वायरस गांव में न फैले. मवेशियों को भी कोरोना के संक्रमण से बचाया जा सके क्योंकि इस समय गेंहू की फसल निकाली जा रही है. ग्रामीण बैलों को जब बैलगाड़ी में बांधकर खेत में ले जाते हैं तो मास्क लगाकर ही ले जाते है ताकि जब वह खेत से गांव में आएं तो संक्रमण गांव में न फैले.
किसान हरिसिंह ने बताया कि कोरोना बीमारी चल रही है. मवेशी जमीन पर पड़ी गंदी चीजें सूंघ लेते हैं. बीमारी घरों में न फैल जाए, इसी से बचाने के लिए बैलों को मास्क पहनाए गए हैं. खेतों पर जाते और आते दोनों समय बैलों को मास्क लगाते हैं जिससे बीमारी से बचा जा सके. बता दें कि मवेशियों के लिए मास्क का बड़ा साइज रहता है इसलिए उनके लिए स्पेशल मास्क गांव में ही तैयार किए जा रहे हैं.
Loading...