"हैलो! मैं सीएम योगी बोल रहा हूं, क्या आपके खाते में पैसा आ गया या नहीं"

सोमवार को मुख्यमंत्री ने जिले में 611 करोड़ रुपये मनरेगा मजदूरों के बकाए का भुगतान किया। इस क्रम में प्रदेश के पांच मनरेगा मजदूरों से  मुख्यमंत्री द्वारा बात भी की गई।  जिसमें देवरिया जनपद के पथरदेवा विकास खंड के मलवाबार की महिला मुसहर श्रमिक सावित्री पत्नी स्वर्गीय ओमप्रकाश से बात की गई। फोन रिसीव करते ही उधर से आवाज आई आपसे मुख्यमंत्री योगी जी बात करना चाहते हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने महिला का कुशल क्षेम पूछते हुए सरकार की ओर से मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी ली। 
महिला ने एक-एक कर सभी सुविधाओं पर बेबाकी से जवाब दिया। मुख्यमंत्री  द्वारा गांव का हालचाल जानने के बाद पैसा आज खाते में जाने की जानकारी साझा करते हुए राशन मिलने और घर में ही रहने को बताया गया। सीएम से बात करने वाले मजदूरों में पथरदेवा ब्लाक की सावित्री देवी पत्नी ओमप्रकाश भी शामिल रहीं। बातचीत में सीएम ने पूछा कि आपको मनरेगा से मजदूरी मिलती है या नहीं। महिला ने कहा मिलती है। कितना मजदूरी पाई हो, महिला ने कहा 98 दिन काम की हूं। 

जिसमें 14 दिन की मजदूरी नहीं मिली है। सीएम ने पूछा कितने रुपये बाकी हैं, महिला ने कहा साहब 2548 रुपये। उन्होंने जल्द रुपये मिलने का आश्वासन दिया। राशन में गेहूं, चावल के साथ दाल आदि मिलने की जानकारी ली। गांव में साफ-सफाई के बारे में पूछा। कोरोना महामारी को देखते हुए घर में रहकर साफ सफाई पर ध्यान देने को कहा। फोन कटने के तुरंत बाद ही सावित्री के मोबाइल में 2548 रुपये का मैसेज आया। इससे वह बहुत खुश हुई और मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया।
Loading...