स्कूटी से घूमकर पुलिस वालों को चाय पिला रही निधि व राजा के बारे में जानकर हैरान रह जाएंगे आप!

कोई भी विपरीत परिस्थिति चाहे जैसी भी हो लेकिन मनुष्य चाहे तो उसमें जीने की राह ढूंढ़ ही लेता है। लगभग पूरी तरह ठप जनजीवन में एक दंपत्ति ने सेवा की ऐसी राह चुनी है जिसकी हर कोई तारीफ कर रहा। हम बात कर रहे हैं होसंगाबाद के पिपरिया शहर में कोरोना के खिलाफ ड्यूटी कर रहे लोगों को चाय पिलाने वाली निधि वर्मा व उनके पति राजा वर्मा की। निधि व राजा शहर के रेलवे गेट के पास ही रहते हैं। 
कोरोना संकट के दौरान हुए लाॅकडाउन में इस दंपत्ति ने जनसेवा की अनोखी राह चुनी है। निधि व राजा कोरोना के दौरान ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मियों को सुबह-शाम चाय पिलाते हैं। निधि घर पर ही चाय बनाती है। फिर चाय को एक केतली में भरकर स्कूटी से दंपत्ति निकलता है शहर में। निधि स्कूटी चलाती है, राजा चाय की केतली, ट्रे व डिस्पोजल लेकर पीछे वाली सीट पर बैठतेे हैं। शहर में जिस किसी भी चौक-चौराहा पर कोई पुलिसवाला या प्रशासनिक अफसर दिखता है, यह दंपत्ति उनको चाय पिलातेे हैं।
‘पत्रिका’ ऐसे लोगों के सेवाभाव को देखते हुए उनको समाज के सामने ला रहा है। इस कोशिश में ‘पत्रिका’ ने निधि व राजा से बात की, पहले तो दोनों ने किसी प्रकार की पब्लिशिटी करने व फोटो से परहेज किया लेकिन विशेष अनुरोध पर वह माने। निधि व राजा वर्मा कहते हैं कि कोरोना को अधिक से अधिक घरों में रहकर, एक दूसरे से दूरी बनाकर मात दिया जा सकता है। हम घरों में हैं तो हमारे रक्षक सड़कों पर मुश्तैद है। हममें से प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है कि हम खुद को सुरक्षित रखने के साथ रक्षकों की मदद को आगे रहे ताकि सामाजिक तानाबाना कायम रहे।