लॉकडाउन में ड्यूटी के साथ ही निभा रहीं हैं मां का फर्ज, इस महिला सिपाही के जज्बे को सलाम

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में लॉकडाउन के दौरान यूं तो पूरा पुलिस महकमा अपना फर्ज निभाने में जुटा हुआ है। लेकिन मैनपुरी जिले में एक महिला पुलिसकर्मी ऐसी भी हैं, जो न केवल 'खाकी' का फर्ज निभा रही हैं, बल्कि मां की ममता का धर्म भी निभा रही हैं। 
मैनपुरी के बाईपास रोड पर एक महिला कांस्टेबल की ड्यूटी चेकिंग में लगाई गई है। महिला कांस्टेबल के बेटे की उम्र महज एक साल है। ऐसे में उसे घर पर छोड़ना भी संभव नहीं। लिहाजा इस महिला कांस्टेबल ने दोनों फर्ज एक साथ निभाने की ठान ली। 

महिला कांस्टेबल 25 मार्च से लगातार हर दिन 12 घंटे ड्यूटी कर रही हैं। इस दौरान महिला कांस्टेबल के साथ उनका मासूम बेटा ही रहता है। चिलचिलाती धूप में बच्चा कई बार परेशान हो जाता है, लेकिन खाकी के फर्ज के आगे एक मां का दिल फिर भी नहीं पसीजता है। 
अमर उजाला से बातचीत में महिला कांस्टेबल ने अपना नाम प्रकाशित न करने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि वो देश के लिए बस अपना फर्ज निभा रही हैं। ड्यूटी के साथ वो अपने बेटे की सुरक्षा का पूरा ख्याल रखती हैं।