इरफान खान के पिता कहते थे, "पठानों के घर में पैदा हो गया ब्राह्मण" जानिए बजह क्या था ?

बॉलीवुड के दिग्गज एक्टर इरफान खान ने 29 अप्रैल को दुनिया को अलविदा कह दिया। वह काफी समय से गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे। 28 अप्रैल को उन्हें कोलन इंफेक्शन के चलते मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में एडमिट कराया गया था लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। एक इंटरव्यू के दौरान इरफान ने बताया था कि उनके पिता जानवरों का शिकार करना बहुत पसंद करते थे, लेकिन उन्हें जानवरों के मरने से दुख होता था। यही वजह था कि पिता उन्हें ब्राह्मण बुलाया करते थे।

एक इंटरव्यू के दौरान इरफान ने बताया, 'मेरे पिता शिकारी आदमी थे शिकार करते थे। हम साथ में जंगल शिकार करने जाते थे। हमें अच्छा लगता था जंगल देखना। लेकिन जानवर मरते थे तो बुरा लगता था। मैं सोचता था कि ये मर गया इसके बेटे का क्या हो रहा होगा। इसकी मां का क्या हो रहा होगा। ये सब दिमाग में चलता रहता था। एक बार पिता ने मुझसे बंदूक चलवाई थी और एक जानवर मर गया था। और उसके मरने का मुझ पर बहुत ज्यादा असर हुआ था। मुझे पिता कहा करते थे पठानों के घर में ब्राह्मण पैदा हो गया है।'

गौरतलब है कि दूरदर्शन ने इरफान खान के निधन के बाद उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए उनके शो श्रीकांत को फिर से टीवी पर टेलीकास्ट करने का फैसला किया है। चैनल पर इसे रोजाना दोपहर 3.30 बजे टेलिकास्ट किया जाएगा। मालूम हो कि सीरियल श्रीकांत शरत चंद्र चटर्जी के उपन्यास श्रीकांत पर आधारित है। यह शो दूरदर्शन पर 1985-86  तक प्रसारित किया गया था। इसका निर्देशन प्रवीण निस्कोल ने किया था।