लॉकडाउन में इस दुकानदार के साथ पुलिस ने किया ऐसा काम, पुलिसवालों ने जीत लिया सबका दिल

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में एक जरूरतमंद बुजुर्ग चाय दुकानदार ने पेट भरने के लिए लॉकडाउन का उल्लंघन कर शनिवार को अपनी दुकान खोली। पुलिस ने 86 वर्षीय बुजुर्ग को अनोखी सजा देकर सबका दिल जीत लिया। पुलिस ने उसे बतौर सजा राशन दिया। दरअसल, पुलिस को जब पता चला कि बुजुर्ग ने मजबूरी में अपनी चाय दुकान खोली है तो उन्होंने राशन खरीदकर देने का फैसला किया। यह वाकया इंटाली पुलिस थाना क्षेत्र का है।
थाना प्रभारी देवाशीष दत्ता ने खुद बुजुर्ग प्रीति रॉय को 3 किलो चावल और दाल सौंपी। राशन मिलने के बाद रॉय ने पुलिस से वादा किया कि वह लॉकडाउन खत्म होने तक दुकान नहीं खोलेंगे। एक व्यक्ति ने दुकान खुली देखकर इसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की और लाल बाजार के वरिष्ठ पुलिसकर्मियों को टैग करते हुए उन्हें हस्तक्षेप करने के लिए कहा। एक अन्य शुुभ्रज्योति चौधरी ने रॉय की दुकान की तस्वीर के साथ पुलिस आयुक्त अनुज शर्मा को टैग किया। 

लोगों की शिकायत के बाद पुलिस मुख्यालय लालबाजार हरकत में आया। सूचना पर जब ओसी देवाशीष दत्ता गए तो पता चला कि बुजुर्ग प्रीति रॉय को मदद की जरूरत है। बुजुर्ग ने कहा कि उन्हें लॉकडाउन के बारे में पता था लेकिन जिंदा रहने के लिए दुकान खोलने को मजबूर होना पड़ा। एक अधिकारी ने कहा कि यह इलाका कंटेनमेंट जोन में हैं और हम किसी को दुकान खुली रखने की अनुमति नहीं दे सकते थे। उम्र को देखते हुए हमने बुजुर्ग दुकानदार की मदद की। राशन मिलने के बाद खुश दुकानदार ने कहा कि मेरी आय कम है, लेकिन यह राशन मुझे कई दिनों तक जीवित रहने में मदद करेगा।