कोरोना संकट पर पीएम मोदी ने मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी सहित कई विपक्षी नेताओं से किया बात!

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रतिभा पाटिल से बात की. उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और एचडी देवगौड़ा से भी इस विषय पर चर्चा की. पूर्व राष्ट्रपति और पूर्व प्रधानमंत्रियों के अलावा नरेंद्र मोदी ने अलग-अलग पार्टियों के नेताओं से भी बातचीत की. 
इन नेताओं में सोनिया गांधी, मुलायम सिंह, अखिलेश यादव, ममता बनर्जी, नवीन पटनायक, के चंद्रशेखर राव, स्टालिन और प्रकाश सिंह बादल के नाम शामिल हैं. देश में कोरोना महामारी पर सरकार की तैयारियों को लेकर प्रधानमंत्री अलग-अलग लोगों से लगातार बात कर रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक देश फिलहाल कोरोना वायरस की महामारी से कैसे जूझ रहा है और सरकार की इसके खिलाफ क्या तैयारियां हैं, आज इस पर चर्चा की गई.

इससे पहले गुरूवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस को रोकने के उपायों सहित इससे जुड़े मुद्दों पर राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा की थी. उन्होंने स्पष्ट किया था कि पूरे देश का साझा लक्ष्य जीवन का न्यूनतम नुकसान सुनिश्चित करना है. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये हुई इस बैठक में उन्होंने यह भी कहा था कि अगले कुछ हफ्ते तक सारा ध्यान टेस्टिंग (जांच), ट्रेसिंग (संक्रमित लोगों की खोज), आइसोलेशन (उन्हें अलग रखने) और क्वारंटाइन (एक तय समय तक सबसे अलग रहना) करने पर होना चाहिए. नरेंद्र मोदी के मुताबिक इस दिशा में युद्धस्तर पर काम करने की जरूरत है.