लॉकडाउन बढ़ने पर बनाए जा सकते हैं तीन जोन, पहले से ही जान लीजिए इनके बारे में...

देश में कोरोना को मात देने के लिए 14 अप्रैल को खत्म हो रहे लॉकडाउन को दो सप्ताह यानी 30 अप्रैल तक बढ़ाया जाएगा। पीएम नरेंद्र मोदी की शनिवार को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में लॉकडाउन बढ़ाने पर आमराय बनी। हालांकि, कुछ रियायतें दी जा सकती हैं। इसका औपचारिक एलान पीएम मोदी रविवार या सोमवार को करेंगे।
सरकार ने केंद्रीय मंत्रियों से कार्यालयों में सोमवार से काम करने को कहा है। मंत्रालयों को निर्देश दिए हैं कि संयुक्त सचिव और उससे ऊपर के अफसर विभागों में काम शुरू करें। हर मंत्रालय में आवश्यक कर्मचारियों के एक तिहाई की उपस्थिति जरूरी है। दरअसल, सरकार हॉटस्पॉट की पहचान और लॉकडाउन खत्म होने के बाद अर्थव्यवस्था को गति देने के उपायों पर ध्यान केंद्रित कर रही है।

ऐसे में माना जा रहा है कि देश में लगे लॉकडाउन का आगे बढ़ना लगभग तय है, ऐसे में लॉकडाउन की मियाद बढ़ाने के साथ ही सरकार प्रभावित क्षेत्रों में संक्रमितों की संख्या के आधार पर तीन जोन में बांट सकती है। 

रेड जोन : जिन जिलों में सबसे ज्यादा केस व हॉटस्पॉट होंगे। यहां कोई गतिविधि नहीं होगी।

ऑरेंज जोन : जहां कुछ ही केस मिले और पॉजिटिव मामले नहीं बढ़ेे। इन क्षेत्रों में सार्वजनिक परिवहन, फसल कटाई जैसी सीमित गतिविधियों की अनुमति।

ग्रीन जोन : जहां एक भी केस नहीं। इन क्षेत्रों में एमएसएमई को इजाजत होगी, पर कर्मचारियों को सामाजिक दूरी बनाते हुए उद्योग के अंदर ही काम करना होगा। ग्रीन व ऑरेंज जोन में सामाजिक दूरी के साथ कृषि गतिविधियों की अनुमति।