"कोरोना आ गया है सब मारे जाएंगे", यह कहते हुए इस युवक ने ब्लेड से गर्दन काटकर दे दी जान!

कोरोना के कहर से डरे एक युवक ने खुद की गर्दन ब्लेड से काटकर सुसाइड कर लिया है। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है। परिवार वालों ने बगैर किसी कार्रवाई शव काे सुपुर्दे खाक कर दिया है। मृतक फैसल के पिता का कहना है कि दो साल पहले मेरी दो बेटियों की मौत हो गई थी। तभी से फैसल सदमे में था। कभी-कभार ठीक रहता पर ज्यादातर समय वह बहकी-बहकी बातें करता था। बहनों की मौत के गम में वह बुरी तरह टूट गया था। अब वह कोरोना के कहर से डरा हुआ था। कोरोना के डर से ही उसने ब्लेड से अपनी गर्दन काटकर आत्महत्या कर ली है।
सीओ सिटी विद्या किशोर ने बताया कि युवक फैसल अपने माता-पिता के साथ काशीराम कालोनी में रहता था। बताया जा रहा है कि कुछ दिनों से वह पुराने गंज मोहल्ले में अपनी बहन के यहां रह रहा था। उसके बहनोई सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान पर राशन लेने गए थे। वहीं बहन ऊपर के कमरे में थी। इसी दौरान पता चला कि उसने अपनी गर्दन काटकर खुदकुशी कर ली है। परिवार का कोई सदस्य कानूनी कार्रवाई कराना नही चाहते हैं। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

वहीं कोतवाली गंज कोतवाली प्रभारी रामवीर ने बताया कि दो साल पहले युवक फैसल की दो बहनों की मौत हो गई थी। युवक दो बहनों की मौत से सदमे में आ गया था। वह अक्सर मानिसक तनाव में रहता था और बहकी-बहकी बातें करता था। इन दिनों कोरोना को लेकर घर मे परिवार के सदस्यों से कहता था दरवाजे बंद कर दो, खिड़कियां बन्द कर दो। कोरोना आ गया है हम सब कोरोना से मर जाएंगे। युवक ने कोराेना के खौफ में ब्लेड से अपनी गर्दन काटकर खुदकुशी कर ली है।